एक लड़की पर शराब और PUBG गेम का ऐसा शौक चढ़ा कि पैसों की खातिर अपनी ही बहन के घर में लूट करवा दी। यह मामला दिल्ली के निहाल विहार का है जहां एक महिला के घर में घुसकर दो बदमाशों ने लूट की वारदात को अंजाम दिया। पीड़िता ने पुलिस को बताया कि उसके सिर पर पिस्तौल रखकर आरोपियों ने लूटपाट की और घर के बाहर ताला लगाकर फरार हो गए। पीड़िता की शिकायत के बाद मामले की जांच में जुटी पुलिस ने हैरान करने वाला खुलासा किया है। ये लूट किसी और ने नहीं, बल्कि पीड़िता की बहन ने ही कराई थी।

निहाल विहार की रहने वाली पीड़ित महिला शशि के यहां ये पूरी घटना हुई। उसकी शिकायत के बाद पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई। पुलिस टीम ने इलाके के सीसीटीवी खंगाले, तो पता चला कि आरोपी एक स्कूटी पर आए थे, जो घटनास्थल से करीब 200 से 250 मीटर की दूरी पर खड़ी थी। पीड़िता की चीख-पुकार सुनने के बाद कुछ पड़ोसियों ने उनका पीछा किया, लेकिन आरोपी स्कूटी मौके पर छोड़कर फरार हो गएअ

स्कूटी के नंबर से पता चला कि ये स्कूटी मादीपुर के अमन के नाम पर रजिस्टर है। पुलिस ने स्कूटी मालिक तक पहुंचने का प्रयास किया, लेकिन अमन दर्ज पते पर पिछले तीन साल से नहीं रह रहा था। पुलिस ने चालाकी से काम करते हुए स्कूटी को वहीं खड़ा रहने दिया।

कुछ समय बाद ही एक शख्स स्कूटी लेने के लिए वहां पहुंचा, तो पुलिस ने उसे मौके से पकड़ लिया। पकड़े गए आरोपी का नाम सन्नी है और उसने खुलासा किया कि उसने ज्योति उर्फ परी नाम की लड़की के साथ मिलकर इस लूट की प्लानिंग की थी। ज्योति ने सन्नी को बताया था कि उसकी बहन शशि के घर में भारी कैश रखा हुआ है, जिसके बाद पुलिस ने अपनी ही बहन के घर लूट करने की प्लानिंग में शामिल ज्योति को भी गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपी के पास से एक टॉय पिस्तौल भी बरामद की है।

बताया गया है कि ज्योति और सन्नी की मुलाकात PUBG खेलने के दौरान एक दूसरे से हुई थी। ज्योति शराब और ऑनलाइन गेम PUB-G की आदी थी, जिसके लिए उसे पैसे की जरूरत थी और इसी कारण उसने अपनी सगी बहन को लूटने की प्लानिंग की थी। पुलिस ने बताया कि सन्नी डाबरी एक्सटेंशन का रहने वाला है। वह पिछले 3 साल से नारायणा में प्रिंटिंग प्रेस में काम कर रहा है। वर्तमान में लॉकडाउन में प्रिंटिंग प्रेस का काम बंद होने के कारण वह डिलीवरी बॉय का काम कर रहा था।