लखनऊ। उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल के शुरुआती पहले महीने में अगले पांच के दौरान किये जाने वाले कामों को चरणबद्ध तरीके से पूरा करने की कार्ययोजना तय कर ली है। सरकार की ओर से शुक्रवार को जारी एक बयान के अनुसार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 25 मार्च को सरकार के शपथ ग्रहण के बाद पहले महीने में सभी मंत्रियों और विभागों के प्रमुख अधिकारियों की मौजूदगी वाली 'टीम यूपी' का गठन कर अगले पांच साल के कामकाज का रोड मैप तैयार किया है। 

यह भी पढ़े : Love Horoscopr 22 April: ये राशि वाले रोमांटिक लाइफ में खुद से आगे न बढ़ें, पार्टनर के साथ क्वालिटी टाइम बिताएं


इसके तहत 'टीम यूपी' ने सौ दिन, छह माह और हर साल में चरणबद्ध तरीके से किये जाने वाले काम तय कर लिये हैं। गौरतलब है कि योगी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला महीना आगामी 25 अप्रैल को पूरा हो जायेगा। इस अवधि में सरकार के कामों का ब्योरा देते हुए मुख्यमंत्री कार्यालय के बयान के अनुसार मुख्यमंत्री योगी ने सभी मंत्रियों को उनके विभागों के लक्ष्य हासिल करने के लिए टीम वर्क के साथ आगे बढऩे का स्पष्ट संदेश दिया है। 

गौरतलब है कि योगी ने 25 मार्च को शपथ ग्रहण के बाद सभी विभागों से सौ दिन, छह माह, दो साल और पांच साल की कार्ययोजना मांगी थी। कार्ययोजना के आधार पर सभी विभागों को 10 सेक्टरों में बांटा कर काम पूरे करने की रणनीति के बारे में मुख्यमंत्री के समक्ष विभागवार प्रस्तुतिकरण किया गया। इस प्रस्तुतिकरण में पिछले पांच साल के कामों को आगे बढ़ाने के लिये अगले पांच साल की तैयारियों को पेश किया गया। 

यह भी पढ़े : Aaj ka rashifal 22 अप्रैल: आज इस राशि वाले लोग धन के मामले में बढ़ेंगे आगे, काली वस्‍तु का दान करें,  पढ़ें सभी राशियों का हाल

इस दौरान मंत्रियों के सुझावों पर भी विचार विमर्श कर उस पर अमल करने के लिए योगी ने निर्देश दिये हैं। उन्होंने सभी अधिकारियों को अपराध, भ्रष्टाचार और माफियागिरी पर कठोर कार्यवाही करने के निर्देश दिए। सभी विभागों को तकनीकी का अधिकतम उपयोग करने और रोजगार सृजन पर ध्यान केन्द्रित करने के लिये कहा गया है। मुख्यमंत्री ने प्रत्यक्ष और परोक्ष रूप से लोगों को रोजगार के अधिकतम अवसर मुहैया कराने के लिए शिक्षा व्यवस्था में सुधार से लेकर अन्य जरूरी कदम उठाने को कहा है।