उत्तर प्रदेश में दोबार सत्तारूढ़ होने जा रही भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नवनिर्वाचित विधायकों की बैठक में गुरुवार को कार्यवाहक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को विधायक दल का नेता चुना लिया गया। राज्य में भाजपा सरकार के गठन के लिये यहां स्थित लोकभवन में आहूत पार्टी की विधायक दल की बैठक में वरिष्ठ विधायक सुरेश खन्ना ने योगी को विधायक दल का नेता मनोनीत किये जाने का प्रस्ताव पेश किया। इसे सभी विधायकों ने सर्वसम्मति से स्वीकार कर लिया। 

ये भी पढ़ेंः भारत के इस पड़ोसी देश को आखिरकार चीन ने कर ही दिया कंगाल, कागज-स्याही-गैस के भी नहीं पैसे


इससे पहले विधायक दल की बैठक भाजपा के केन्द्रीय पर्यवेक्षक एवं गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में शाम को लगभग सवा पांच बजे शुरु हुयी। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार यह बैठक शाम चार बजे शुरु होनी थी। शाह ने योगी को विधायक दल का नेता चुने जाने पर उन्हें पुष्पगुच्छ भेंट कर शुभकामनायें दी। बैठक में सह पर्यवेक्षक और झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास भी मौजूद थे। इस दौरान मंच पर शाह, दास और योगी के अलावा भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, पार्टी के प्रदेश प्रभारी राधामोहन सिंह और कार्यवाहक उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य एवं दिनेश शर्मा सहित अन्य वरिष्ठ नेता मौजूद थे। 

ये भी पढ़ेंः अब ओवरस्पीड चालान से बचाएगा गूगल का ये कमाल फीचर , अभी तुरंत एक्टिवेट करें स्पीड लिमिट वॉर्निंग फीचर


बैठक शुरु होने पर प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने शाह और दास सहित पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेताओं का स्वागत किया। इसके बाद बैठक की औपचारिक शुरुआत करते हुए विधायक दल के वरिष्ठ नेता सुरेश खन्ना ने योगी को विधायक दल का नेता चुने जाने का प्रस्ताव पेश किया जिसे सर्वसम्मति से स्वीकार कर लिया गया। समझा जाता है कि योगी, आज शाम राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से मुलाकात कर भाजपा सरकार के गठन का दावा पेश करेंगे। गौरतलब है कि राज्य की 18वीं विधानसभा के गठन के लिये हाल ही में संपन्न हुये चुनाव में भाजपा 255 सीटें जीत कर सबसे बड़े दल के रूप में उभरी है। 

सबसे बड़े दल के नेता के रूप में योगी के दावे को स्वीकार कर राज्यपाल उन्हें नयी सरकार के गठन के लिये आमंत्रित करेंगी, जिसके आधार पर योगी मंत्रिमंडल को शुक्रवार को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलायी जायेगी। लखनऊ स्थित अटल बिहारी वाजपेयी इकाना स्टेडियम में योगी सरकार के शपथ ग्रहण समारोह की तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा शासित विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों सहित समाज के तमाम वर्गों के प्रतिनिधियों की संभावित मौजूदगी में राज्यपाल द्वारा शाम चार बजे योगी और अन्य मंत्रियों को शपथ दिलायी जायेगी। इसके अगले दिन 26 मार्च को भाजपा के वरिष्ठ विधायक रमापति शास्त्री विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर पद की शपथ ग्रहण कर सभी नवनिर्वाचित विधायकों को भी शपथ दिलाकर नये विधानसभा अध्यक्ष के चयन की प्रक्रिया को पूरा करायेंगे।