Yogi Adhityanath को Killing Threat  मिली है जिसके तहत उनसे कहा गया है कि चार दिन में जो करना है कर लो। डायल 112 के कंट्रोल रूम के व्हाट्सएप नंबर पर किसी ने धमकी भरा मैसेज भेजा है। मैसेज में मुख्यमंत्री के लिए अपशब्दों का इस्तेमाल करते हुए जान से मारने की धमकी दी गई है। धमकी देने वाले ने यह भी कहा है कि 4 दिन का समय दे रहा हूं। मेरा जो कुछ भी कर सकते हो, कर लो। मैसेज आते ही डायल 112 के अफसरों में हड़कंप मच गया। कंट्रोल रूम के ऑपरेशन कमांडर अंजुल कुमार की तरफ से सुशांत गोल्फ सिटी थाने में अज्ञात मोबाइल नंबर धारक के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है। पुलिस संदिग्ध मोबाइल नंबर की तलाश में जुट गई है।
पुलिस अधिकारियों ने बताया कि 29 अप्रैल की रात करीब 8 बजे डायल 112 के व्हाट्सएप नंबर पर एक मैसेज आया, जिसमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जान से मारने की धमकी दी गई थी। मैसेज में सीएम योगी को 5 दिन में जान से मारने की बात कही गई थी। धमकी देने वाले ने कहा कि 4 दिन के अंदर मेरा जो कुछ भी कर सकते हो कर लो। मामले की जानकारी पुलिस के आला अधिकारियों को दी गई जिसके बाद मैसेज भेजने वाले की तलाश शुरू हुई। इसी बीच डायल 112 के ऑपरेशन कमांडर कंट्रोल रूम अंजुल कुमार ने सुशांत गोल्फ सिटी थाने में मैसेज भेजने वाले अज्ञात नंबर धारक के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई। एडीजी कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया कि जिस मोबाइल नंबर से धमकी दी गई है उसकी तलाश में स्थानीय पुलिस के अलावा एसटीएफ को भी लगाया गया है।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को जान से मारने की धमकी पहले भी कई बार मिल चुकी है। डायल 112 के व्हाट्सएप नंबर पर मैसेज भेज कर कई लोग मुख्यमंत्री को धमकी दे चुके हैं। पिछले साल मई, सितंबर और दिसंबर में मुख्यमंत्री को ऐसी कई धमकियां मिली थी। पुलिस ने कई लोगों को गिरफ्तार भी किया था। कुछ लोगों ने गलती से मैसेज भेजने की बात कुबूल की थी।