प्रधानाध्यापक आर.एम. कर्नाटक (Karnataka) के मैसूर के कोटे कस्बे में एक छात्रा को एक शर्मनाक घटना में चूमते पाए जाने के बाद अनिल कुमार को नौकरी से निकाल दिया गया है। हेडमास्टर (Headmaster) अनिल कुमार को एक छात्रा को उसके चेंबर में किस (Kiss) करते हुए रंगेहाथ पकड़ा गया। निजी स्कूल की प्रबंधन समिति की ओर से आपात बैठक बुलाई गई है और बाद में प्रधानाध्यापक को तत्काल प्रभाव से बर्खास्त करने का निर्णय लिया गया है।

पुलिस ने बताया कि शिक्षा विभाग द्वारा प्रधानाध्यापक के खिलाफ यौन अपराधों से बच्चों की रोकथाम (POCSO) अधिनियम के तहत यौन उत्पीड़न का मामला दर्ज किया गया है। प्रखंड शिक्षा अधिकारी चंद्रकांत व उप निदेशक लोक शिक्षण रामचंद्र उर्स ने भी आरोपी शिक्षक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया है।


यह कार्रवाई तब हुई जब प्रधानाध्यापक द्वारा छात्रा को पकड़े हुए और अपने कक्ष में उसे चूमने (Kiss) का एक वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया और वायरल हो गया। वीडियो को छात्रों ने खिड़की से गुपचुप तरीके से शूट किया था। राज्य में यह घटना अच्छी नहीं हुई है, कई लोग सदमे में हैं और कुछ नाराज हैं।
ग्रामीणों व छात्रों ने आरोपी प्रधानाध्यापक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की। खंड शिक्षा अधिकारी (BEO) ने कहा कि शिक्षक के आचरण ने शिक्षा विभाग को शर्मिंदा किया है और यह भी कहा कि उन्होंने प्रधानाध्यापक के खिलाफ यौन उत्पीड़न का मामला दर्ज किया है और ग्रामीणों की शिकायतों के आधार पर कार्रवाई की मांग की है।


मामला H.D. कोटे थाना और पुलिस ने कहा है कि उन्होंने मामले की जांच अपने हाथ में ले ली है। सूत्रों ने बताया है कि पुलिस शिकायत का सत्यापन कर रही है और आरोपी प्रधानाध्यापक को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया जाएगा।