भारत के खिलाफ पाकिस्तान की एक और बड़ी साजिश का खुलासा हुआ है। इसके मुताबिक गलत सूचनाओं के जरिए भारत के खिलाफ दुष्प्रचार, कश्मीर के लोगों को भड़काने की साजिशें रची जा रही हैं। इन मुद्दों के जरिए पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ प्रॉक्सी वॉर शुरू कर दिया है। इसमें कश्मीरी अलगाववादी यासीन मलिक की पत्नी मुशाल हुसैन मलिक की सक्रिय भूमिका है। 

यह भी पढ़ें : सिक्किम में बिना तेल के बनाया जाता है लजीज फग्शापा मीट, पूरी दुनिया में मशहूर है ये होटल

खबर है कि इन दुष्प्रचारों के जरिए पाकिस्तान अंतर्राष्ट्रीय समुदाय में भारत की छवि धूमिल करने की मंशा रखता है। दिल्ली स्थित एक फैक्ट चेकिंग संगठन ने इसमें पाकिस्तान की इस साजिश में यासीन मलिक की बीवी के शामिल होने का दावा किया है। डिजिटल फॉरेंसिक रिसर्च एंड एनालिटिक्स सेंटर (डी-फ्रैक) नाम के इस संगठन के मुताबिक पाकिस्तान की कई मशहूर शख्सियतों के नाम से बने अकाउंट्स के जरिए भारत की छवि को नुकसान पहुंचाया जा रहा है। फैक्ट चेकर के मुताबिक इन सभी अकाउंट्स से जम्मू-कश्मीर के भारतीय अल्पसंख्यकों पर हो रहे उत्पीड़न की बात की जाती है। इसके जरिए भारत और पाकिस्तान की मुस्लिम आबादी को भड़काने का प्रयास किया जाता है।

जानकारी के मुताबिक मुशाल मलिक के टि्वटर अकाउंट के करीब 80 हजार फॉलोवर्स हैं। इनमें बड़ी तादाद पाकिस्तानी फॉलोवर्स की है। अपने टि्वटर अकाउंट्स पर मुशाल मलिक खुद को प्राउड वाइफ ऑफ यासीन मलिक कहती है। इतना ही नहीं, वह कश्मीरी अलगाववादियों को हीरो कहती है। इस अकाउंट पर पोस्ट्स के जरिए मुशाल मलिक दुनिया को यकीन दिलाने में लगी है कि कश्मीर में मुसलमानों का कल्तेआम और उत्पीड़न हो रहा है। अपने ट्वीट्स और वहां पोस्ट वीडियोज में वह कश्मीरी मुसलमानों के उत्पीड़न के लिए लगातार भारत को दोषी ठहराती है। डी-फ्रैक की रिपोर्ट के मुताबिक मुशाल अपनी ट्वीट में लगातार यूएन से जुड़े संगठनों को टैग करती रहती है। वह उन्हें लगातार बताती रहती है कि भारत अपनी मुस्लिम आबादी के साथ कितना गलत व्यवहार कर रहा है। साथ ही उसका यह भी कहना है कि यह लोग पाकिस्तान के साथ जुड़कर खुशी महसूस करेंगे।

यह भी पढ़ें : भारत के राज्य पर आया दुबई के शेखों का दिल, एक ही झटके में बना देंगे अमीर

इतना ही नहीं, मुशाल अपने टि्वटर पर अपने पति यासीन मलिक के साथ-साथ टेरर फंडिंग और साजिश रचने के आरोप में जेल बंद अलगाववादियों  के लिए बेल पेटीशन की मांग करती रहती है। फैक्ट चेकर का दावा है कि वह अक्सर कश्मीरी महिलाओं की फोटो का इस्तेमाल यह दिखाने के लिए करती है कि भारतीय सेना उन्हें किस कदर सता रही है। वहीं भारत दोनों के बीच अच्छे संबंधों के लिए लगातार कोशिश में जुटा हुआ है।