चक्रवात ‘यास’ के कारण बिहार में बने कम दबाव वाले क्षेत्र में हुई झमाझम बारिश के कारण मानसून आने के पहले ही सरकारी दावे की पोल खुल गई। राजधनी पटना के कई इलाकों में सडक़ों और नालों के बीच का अंतर समाप्त हो गया। राज्य के वैशाली जिले के हाजीपुर सदर अस्पताल में पानी घुस गया है।राज्य के पटना सहित कई इलाकों में पिछले 24 घंटे से रूक-रूककर हो रही बारिश के कारण कई इलाकों में जलजमाव की समस्या हो गयी है। कई इलाकों में तो लोगों के घरों में पानी घुस गया है।

राजधानी के कंकड़बाग, दानापुर के कई इलाकों, राजीवनगर, लालजी टोला, गर्दनीबाग सहित कई इलाकों में जलजमाव की स्थिति उत्पन्न हो गई है। कई गलियों और मुहल्लों में घुटने तक पानी भर चुका है। लोगों को घरों से निकलने में काफी परेशानी हो रही है, वहीं कई निचले इलाकों में घरों में भी पानी चला गया है। इधर, राजधानी के कई मोहल्लों में मेनहोल खुले हुए हैं, जिसके कारण लोगों की समस्या और बढ़ गई है। कई इलाकों में पेड़ टूटकर सडक़ों पर गिर गए हैं।

इधर, हाजीपुर सदर अस्पताल में पानी घुस गया है, जहां मरीजों और चिकित्सकों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। अस्पताल के ऑपरेशन थिएटर से लेकर इमरजेंसी तक पानी ही पानी नजर आ रहा है। अस्पताल पहुंचने के लिए मरीजों को भी पानी में घुसकर आना पड़ रहा है। एक्सरे रूम में पानी भरा हुआ है। हाजीपुर सदर अस्पताल के डिप्टी सुपरिटेंडेंट डॉ$ एस के वर्मा ने कहा कि ज्यादा बारिश होने के कारण ऐसी स्थिति हो गई है। ऐसी स्थिति में क्या किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि इससे मरीजों और डॉक्टरों को परेशानी हो रही है। पटना के जयप्रभा अस्पताल में भी जलजमाव हो गया है, जिससे मरीजों को परेशानी का सामाना करना पड़ रहा है।