Xiaomi ने बड़ा कदम उठाया है जिसके तहत वो बैन किया गया कोई भी एप अपने फोन में नहीं देगी। गौरतलब हे कि भारत सरकार ने दो चरणों में कई चाइनीज एप को बैन किया है। बैन किए गए ऐप्स में चीन की फोन कंपनी शाओमी के ऐप्स भी शामिल हैं। कंपनी का Mi Browser Pro तो पिछले हफ्ते ही बैन किया गया है।

इसके बाद शाओमी फैन्स को अपने डेटा और प्रीवेसी को लेकर चिंता होने लगी। ऐसे में Xiaomi ने घोषणा की है कि कंपनी नया MIUI वर्जन ला रही है, जिसमें कोई भी बैन किया गया चाइनीज ऐप्स प्री-इंस्टॉल नहीं मिलेगा। यूजर्स के लिए नया MIUI वर्जन आने वाले कुछ हफ्तों में जारी कर दिया जाएगा।
शाओमी ने बैन चीनी ऐप्स के संबंध में अपने फैन्स को एक लेटर लिखा है। कंपनी ने कहा कि शाओमी के किसी फोन में भारत सरकार द्वारा ब्लॉक किए गए ऐप्स नहीं चल रहे हैं और ग्राहकों का डेटा सेफ रखना कंपनी की प्राथमिकता है। कंपनी ने पिछले 6 साल से सपॉर्ट करते आ रहे अपने विश्वसनीय फैन्स का शुक्रिया भी अदा किया।
इसके साथ ही शाओमी ने तीन घोषणाएं की, जिनमें नया MIUI वर्जन भी शामिल था। दूसरी घोषणा Clean Master के संबंध में की गई। शाओमी अपने स्मार्टफोन में MIUI क्लीनर ऐप देती है। अधिकतर यूजर्स इसे क्लीनमास्टर समझ बैठते थे। इसलिए शाओमी ने कहा, 'MIUI का अपना क्लीनर ऐप है और हम भारत सरकार द्वारा बैन किए गए क्लीन मास्टर ऐप का उपयोग नहीं कर रहे हैं'
शाओमी द्वारा की गई तीसरी घोषणा यह थी कि वे भारत सरकार द्वारा तय सभी डेटा प्रीवेसी और सिक्यॉरिटी नियमों का पालन लगातार कर रहे हैं। Xiaomi ने कहा, '2018 के बाद से, भारतीय यूजर्स का 100 फीसदी डेटा भारत में मौजूद सर्वरों में स्टोर किया जाता है और इस डेटा को भारत के बाहर किसी के साथ शेयर नहीं किया जाता।'