भारत के स्टार पहलवान बजरंग पुनिया अपने ईरानी प्रतिद्वंद्वी पर शानदार जीत के साथ 65 किग्रा फ्रीस्टाइल स्पर्धा के सेमीफाइनल में पहुंच गए हैं। माकुहारी मेसे हॉल-ए, मैट-ए पर हुए क्वार्टर फाइनल मैच में बजरंग ने ईरान के मुतर्जा घियासी चेका को 2-1 से हराया। टोक्यो में भारत के लिए पदक के दावेदार बजरंग को विक्ट्री बाई फॉल के आधार पर जीत मिली।

बता दें कि शुरुआत में बजरंग 0-1 से पिछड़ रहे थे, लेकिन जब मुर्तजा ने उनकी टांग पकड़कर फंसाने की कोशिश की तो उल्टा वह बजरंग के ग्रिप में फंस गए। इसके बाद बजरंग ने ईरानी पहलवान को पलटते हुए उसके कंधे जमीन पर लगाकर चित कर मुकाबले को वहीं खत्म कर दिया। मुर्तजा ने बजरंग के चोटिल घुटने पर वार करने की कोशिश की लेकिन भारतीय पहलवान से वह पार नहीं पा सके।


पहले पीरियड की समाप्ति के बाद एशियाई खेल चैम्पियन बजरंग 0-1 से पीछे थे लेकिन दूसरे क्वार्टर में 2 अंक लेकर वह 2-1 से आगे हो गए। अंतिम एक मिनट में बजरंग ने अपना दांव खेला और ईरानी पहलवान को चित्त कर दिया। इसी के साथ उनकी जीत हो गई। इससे पहले, बजरंग एक मुश्किल जीत के साथ 65 किग्रा फ्रीस्टाइल स्पर्धा के क्वार्टर फाइनल में पहुंचे थे। इस मुकाबले में बजरंग का सामना किर्गिस्तान के इरनाजार अकमातालेव से था। अंतिम स्कोर 3-3 रहा लेकिन चूंकी वह पहले पीरियड में अधिक अंक जुटाने में सफल रहे, लिहाजा विजेता करार दिए गए। पहले पीरियड की समाप्ति तक बजरंग 3-1 से आगे थे। दूसरे पीरियड में इरनाजार ने तीन अंक जुटाए लेकिन ये अंक एक-एक करके आए।