आधुनिक समय में सेहतमंद रहना किसी चुनौती से कम नहीं है। इसके लिए सही दिनचर्या का पालन, संतुलित आहार और रोजाना एक्सरसाइज (exercise) जरूरी है। डॉक्टर्स भी कई बीमारियों में रोजाना एक्सरसाइज करने की सलाह देते हैं। खासकर मोटापा और मधुमेह के लिए एक्सरसाइज वरदान साबित होती है।

इसके लिए सुबह या शाम किसी भी समय एक्सरसाइज कर सकते हैं। हालांकि, शाम ढलने के बाद एक्सरसाइज नहीं (exercise before sleeping) करनी चाहिए। विशेषज्ञों की मानें तो सोने से पहले एक्सरसाइज बिल्कुल नहीं करनी चाहिए। इसके बावजूद कुछ लोग रात में एक्सरसाइज (exercise before sleeping) करते हैं। अगर आप भी सोने से पहले एक्सरसाइज करते हैं, तो अपनी आदत में बदलाव करें। इससे सेहत पर प्रतिफूल प्रभाव पड़ता है।

एक नए शोध में खुलासा हुआ है कि रात के समय सोने से पहले एक्सरसाइज करने से हृदय गति तेज हो जाती है। इस वजह से रात को सोने में तकलीफ होती है। सामान्यत: एक्सरसाइज (exercise before sleeping) करने से शरीर डिहाइड्रेट हो जाता है। साथ ही शरीर में स्ट्रेस हार्मोन का उत्सर्जन होता है। वहीं, जिम में तेज रोशनी से शरीर में स्लीपिंग हार्मोन नहीं बनता है। आसान शब्दों में कहें तो तेज रोशनी और स्ट्रेस हार्मोन स्लीपिंग हार्मोन मेलाटोनिन के उत्सर्जन में बाधक बन जाते हैं। इस बारे में विशेषज्ञों का कहना है कि एक्सरसाइज करने का उचित समय सुबह और शाम है।