आंध्र प्रदेश दुरंतो एक्सप्रेस में मेडिकल की फाइनल ईयर की छात्रा की ओर से समय पर की गई मदद से एक गर्भवती महिला की जान ही नहीं बची, बल्कि उसका बच्चा भी सुरक्षित तरीके से पैदा हो पाया। यह वाकया सिकंदराबाद दुरंतो एक्सप्रेस ट्रेन में पेश आया। सिकंदराबाद दुरंतो एक्सप्रेस ट्रेन में आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम की रहने वाली एक गर्भवती महिला सफर कर रही थी।

यह भी पढ़े : Aaj ka rashifal 15 सितंबर:  इन राशियों के लिए आज का दिन रहेगा भाग्यशाली , ये लोग इस रंग की वस्तु का दान करें 


जब ट्रेन अनकापल्ली स्टेशन पहुंचने ही वाली थी, उसी दौरान गर्भवती महिला को भयंकर प्रसव पीड़ा शुरू हो गई। सफर के दौरान प्रसव पीड़ा में उसी कोच में यात्रा कर रही मेडिकल छात्रा ने महिला की मदद की। मेडिकल फाइनल ईयर की छात्रा ने तुरंत गर्भवती महिला को बच्चे को जन्म देने में मदद की।

यह भी पढ़े : Shukra Asta 2022: 15 सितंबर से अस्त होने जा रहे शुक्र , बढ़ सकती है इन राशि वालों की मुश्किलें


महिला के परिवार के सदस्य खुश थे कि मां और बच्चा सुरक्षित हैं। इस सफर के दौरान गर्भवती महिला को बचाने वाली छात्रा को भी सभी ने बधाई दी। ट्रेन के अनाकापल्ली स्टेशन पर रुकने पर बाकी सह-यात्रियों और परिवार के सदस्यों ने तुरंत संबंधित अधिकारियों को सूचित किया।