जबलपुर। मध्यप्रदेश के जबलपुर की जीआरपी पुलिस ने छतरपुर जिले में चलती ट्रेन में एक सहयात्री ने 24 वर्षीय महिला के साथ दुष्कर्म का प्रयास किया और महिला द्वारा विरोध करने पर आरोपी अज्ञात युवक ने उसके चलती ट्रेन से फैंक दिया था, जिसे गिरफ्तार कर आज जेल भेज दिया गया। जीआरपी पुलिस अधीक्षक जबलपुर विनायक वर्मा ने बताया कि पीडि़त उत्तर प्रदेश के बांदा जिले की निवासी है। पीडित महिला ने पुलिस को अपने बयान में बताया था कि खजुराहो-पन्ना रोड पर जिला मुख्यालय से 35 किमी दूर भागेश्वर धाम मंदिर में मन्नत पूरी करने आई थी। 

ये भी पढ़ेंः 2024 का विधानसभा चुनाव 'अंतिम चुनावी लड़ाई': पवन चामलिंग

मन्नत पूरी करने के बाद वह 27 अप्रैल को की शाम खजुराहो-महोबा एक्सप्रेस विशेष यात्री ट्रेन के एक सामान्य डिब्बे में सवार हुई थी। गाडी चलने के चंद सेकेंड पहले आरोपी युवक डिब्बे में चढा था। पीडिता के अनुसार कोच में और कोई यात्री नहीं था। इसी दौरान आरोपी द्वारा दुष्कर्म का प्रयास किया गया और बाद में उसे चलती ट्रेन से फेंक दिया गया। रेलवे के एक कर्मचारी ने उसे पटरियों के पास घायल और बेहोश पड़ा देखा तो पुलिस नियंत्रण कक्ष सूचित किया। महिला को डायल 100 की मदद से उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया था। 

जीआरपी ने हत्या के प्रयास, छेडछाड की धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज कर आरोपी के संबंध में पतासाजी शुरू कर दी थी। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी युवक अगले स्टेशन पर उतर गया था। वह पुन: महिला को देखने या हत्या करने की नियत से वापस घटना स्थल पर वापस लौट था। इसके पहले ही महिला को घायल अवस्था में देखकर रेलवे कर्मी व ग्रामीणजन एकत्र हो गये थे। जिन्होने युवक को देखा था और उसकी हरकते संदिग्ध लग रही थी। ग्रामीणों को शक होने पर युवक भाग गया और इस दौरान उसका मोबाइल फोन गिर गया था। 

ये भी पढ़ेंः SDF और SKM कार्यकर्ताओं के बीच झड़प, धारदार हथियार से हमला-फायरिंग का आरोप, अलर्ट पर राज्य

मोबाइल फोन के आधार पर युवक की शिनाख्त रामबाबू यादव ग्राम सूरी जिला ललितपुर के रूप में हुई थी। युवक को आखरी बार टीकमगढ में देखा गया था। टीमकगढ पुलिस के सहयोग से युवक को गिरफ्तार कर न्यायालय में भेजा गया। जहां से उसे न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया है।