जबलपुर. मध्य प्रदेश में कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव और गुजरात चुनाव में सह प्रभारी, पूर्व मंत्री और विधायक उमंग सिंघार के खिलाफ धार के नौगांव थाने में रेप और मारपीट सहित अन्य धाराओं में एफआईआर दर्ज की गयी है. एफआईआर दर्ज कराने वाली महिला ने खुद को उमंग सिंघार की पत्नी बताया है, साथ ही महिला कांग्रेस नेत्री भी बताई जा रही है. एफआईआर दर्ज होने के बाद से उमंग सिंघार फरार हो गए हैं. 

भीषण रेल हादसा: प्लेटफार्म के वेटिंग हॉल और फुटओवर ब्रिज पर चढ़े मालगाड़ी के डिब्बे, 3 की मौत


कांग्रेस नेता उमंग सिंघार पर हुई एफआईआर के मामले में गुजरात दौरे पर गए गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा का बयान सामने आया है. उन्होंने कहा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव और गुजरात चुनाव में सह प्रभारी, मध्य प्रदेश सरकार में पूर्व मंत्री और विधायक उमंग सिंघार के खिलाफ धार के नौगांव थाने में 38 वर्षीय एक विवाहित महिला ने दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज करवाई है.

जानकारी के अनुसार महिला की शिकायत पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है. महिला ने आरोप लगाया है कि पीडब्ल्यूडी कार्यालय के पीछे विधायक निवास में उमंग सिंघार ने नवंबर 2021 से लेकर 18 नवंबर 2022 के बीच दुष्कर्म और मारपीट कर अभद्र व्यवहार भी किया. महिला ने विधायक पर अप्राकृतिक कृत्य किए जाने का भी आरोप लगाया है. 

Real Jaggery: बाजार में धड़ल्ले से बिक रहा है नकली गुड़, ऐसे करें असली-नकली  की पहचान


नौगांव पुलिस ने इन सभी आरोपों के आधार पर उमंग सिंघार के खिलाफ आइपीसी की धारा 376, 377 और 498 के तहत प्रकरण दर्ज किया. बताया जा रहा है कि रेप जैसे मामले में एफआईआर दर्ज होने के बाद उमंग सिंघार ना धार में हैं ना अपने विधानसभा क्षेत्र में है और ना ही भोपाल में. वह फोन भी नहीं उठा रहे हैं. गिरफ्तारी की आशंका से उमंग सिंघार गायब हो चुके हैं. उमंग सिंघार पहले भी विवादों में रह चुके हैं. भोपाल में हुए एक सुसाइड केस में भी उनका नाम सामने आया था उनके घर पर एक महिला ने सुसाइड किया था.