चीन के वुहान से आए कोरोना वायरस यानी कि कोविड-19 ने चीन के साथ साथ पूरी दुनिया में तबाही मचा दी है। इसके प्रकोप से दो लाख से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं। और सकम से कम 40 लाख से ज्यादा लोग इससे संक्रमित हो गए हैं। इसका सिलसिला अभी तक खत्म नहीं हुआ है। सारी दुनिया में फैलने के बाद से चीन ने कई उपाए कर कोरोना के फैलने पर नियंत्रण कर लिया था।

नवंबर 2019 में मामला सामने आया था। तब से अभी तक यह दुनिया में आतंक फैला रहा है। चीन में ये सबसे पहले आया और खत्म भी सबसे पहले हुआ लेकिन खत्म होने के बाद से फिर ये चीन में ये लौट आया है। पिछले सप्ताह में काफी लंबे समय के बाद यहां फिर से एक साथ कई लोग कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं।

जिससे चीन की हालत खराब हो गई है। अब उसने फैसला लिया है कि वुहान शहर की पूरी 1.10 करोड़ (11 मिलियन) आबादी का कोरोना टेस्ट कराया जाएगा है। चीन के आधिकारियों ने बताया कि एक आवासीय समुदाय में छह नए कोरोनो वायरस मामलों के सामने आने के बाद शहर ने अपने सभी निवासियों का परीक्षण करने के लिए 10 दिन की योजना तैयार की गई है।