चीन में रहने वाले एक शख्स को अपने नशे की लत को लेकर दबाव का सामना करना पड़ रहा था। उसें घरवालों ने साफ कह दिया था कि उसे शराब और स्मोकिंग छोड़नी होगी। हालांकि, शख्स ने इसके बावजूद अपनी आदत तो नहीं छोड़ी, लेकिन ऐसा कदम उठाया कि हर कोई हैरान रह गया।

यह भी पढ़ें : अब सामने आई हिजाब वाली महिला आतंकी! कश्मीर में CRPF के बंकर पर फेंका बम, देखें वीडियो

खबर है कि वेई जियानगुओ नामक शख्स ने परिवार वालों की बातों से तंग आकर घर छोड़ दिया है और एयरपोर्ट को अपना ठिकाना बना लिया है। 60 वर्षीय वेई पिछले कई सालों से एयरपोर्ट पर ही रह रहे हैं। जियानगुओ का कहना है कि वो घर वापस नहीं जाएंगे, क्योंकि वहां कोई आजादी नहीं है।

वेई जियानगुओ पिछले 14 साल से बीजिंग इंटरनेशनल एयरपोर्ट के वेटिंग एरिया में रह रहे हैं। शुरुआत में कुछ दिन उन्होंने रेलवे स्टेशन पर भी बिताए थे। जियानगुओ का कहना है कि एयरपोर्ट पर वो अपनी मर्जी से खा-पी सकते हैं। उन्होंने कहा कि वह घर वापस नहीं जाना कहते, क्योंकि घर पर उन्हें कोई आजादी नहीं मिलती। यहां वो अपनी मर्जी के मालिक हैं और कोई टोकने वाला भी नहीं है।

जियानगुओ की पत्नी और परिवार के अन्य लोगों ने कहा था कि अगर उन्हें घर में रहना है, तो सिगरेट और शराब छोड़नी होगी। ऐसे में उन्होंने अपनी आदत छोड़ने के बजाए घर छोड़ना चुना। जियानगुओ का घर एयरपोर्ट से करीब 19 किलोमीटर दूर है। हाल ही में एक वीडियो में वेई ने बताया कि उन्हें एयरपोर्ट पर रहना पसंद है। उन्होंने यहां अपनी एक छोटी किचन भी बना रखी है। हर महीने मिलने वाली सरकारी सब्सिडी से उनका खर्च चलता है।

यह भी पढ़ें : जबरदस्त एक्शन में आए N Biren Singh, पाकिस्तान की बात पर महबूबा मुफ्ती को ऐसे लिया आड़े हाथ

जियानगुओ एयरपोर्ट पर आने वाले किसी भी यात्री को परेशान नहीं करते, इसीलिए एयरपोर्ट के कर्मचारी भी उन्हें वहां से नहीं हटा रहे। अपने स्लीपिंग बैग और कुछ सामान के साथ वो पिछले 14 साल से बीजिंग एयरपोर्ट पर रह रहे हैं। उन्होंने साल 2008 में ही घर छोड़ दिया था। एयरपोर्ट स्टाफ का कहना है कि उन्हें जियानगुओ से कोई दिक्कत नहीं है।