कोरोना से दुनिया में अब तक 16 करोड़ से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं। इस महासंकट के बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन ने चेतावनी दी है कि दुनिया से कोरोना महामारी जल्द खत्म नहीं होने जा रही है।

डब्ल्यूएचओ के यूरोप के डायरेक्टर हांस कुल्गे ने कहा कि जब तक 70 फीसदी आबादी को कोरोना वायरस का टीका नहीं लगा दिया जाता है, तब तक यह महामारी खत्म नहीं होगी। हांस कुल्गे ने इस बात पर चिंता जताई कि कोरोना वैक्सीन लगाने की रफ्तार बेहद धीमी चल रही है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस महामारी के खात्मे के लिए जरूरी है कि 70 फीसदी आबादी को टीका लगाया जाए।

कुल्गे ने कहा कि उनकी चिंता की अब मुख्य वजह कोरोना वायरस के ज्यादा संक्रामक वेरिएंट हैं। उन्होंने कहा कि इसे इस उदाहरण से समझा जा सकता है कि भारत में मिला कोरोना वायरस वेरिएंट ब्रिटेन में मिले स्ट्रेन से ज्यादा संक्रामक है। रोचक बात यह है कि ब्रिटेन में मिला स्ट्रेन अपने पूर्ववर्ती स्ट्रेन से पहले ही ज्यादा संक्रामक है। बेल्जियम में डॉक्टर हांस कुल्गे ने कहा कि महामारी में स्पीड ही सबसे महत्वपूर्ण होता है।