कोरोना वायरस महासंकट के बीच विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन के महानिदेशक टेड्रोस अधनोम घेब्रेयेसस ने एक ओर जानलेवा वायरस के खतरे को लेकर गंभीर चेतावनी दी है। WHO के सभी 194 देशों के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रियों की वार्षिक बैठक में टेड्रोस अधनोम ने यह चेतावनी दी। उन्‍होंने कहा, 'यह दुनिया अभी बेहद खतरनाक स्थिति में बनी रहेगी।' उन्‍होंने कहा कि अमेरिका जैसे देशों को चेतावनी दी कि तेजी से कोरोना वायरस वैक्‍सीन लगाने के बाद भी खतरा खत्‍म नहीं हो जाएगा।

डब्‍ल्‍यूएचओ चीफ ने कहा कि जब तक कोरोना वायरस और उसके वेरिएंट फैल रहे हैं, ऐसे में शिथिलता बरतने के लिए कोई जगह नहीं होना चाहिए। उन्‍होंने कहा, 'कोई गलती नहीं करें, ऐसा आखिरी बार नहीं होने जा रहा है जब दुनिया महामारी के खतरे का सामना कर रही है। यह विकासपरक निश्चितता है कि एक और वायरस आएगा जो इस कोरोना वायरस की तुलना में और ज्‍यादा संक्रामक और घातक होगा।

'75 फीसदी कोरोना वैक्‍सीन को केवल 10 देशों में ही लगाया गय'
टेड्रोस ने कोरोना वैक्‍सीन की जमाखोरी करने वाले देशों को भी जमकर सुनाया। उन्‍होंने कहा कि कोरोना वायरस वैक्‍सीन के वितरण को लेकर दुनिया में 'अपमानजनक असमानता' पैदा हो गई है। दुनिया की कुल 75 फीसदी कोरोना वैक्‍सीन को दुनिया के केवल 10 देशों में ही लगाया गया है। उन्‍होंने बताया कि गरीब देशों में लोगों की जान बचाने के लिए नए टारगेट सेट किए गए हैं। उन्‍होंने वैक्‍सीन जमा करने वाले देशों से अनुरोध किया कि वे गरीब देशों को वैक्‍सीन दान करें।
डब्‍ल्‍यूएचओ प्रमुख का यह बयान ऐसे समय पर आया है जब पूरे विश्व में कोरोना के मामले बढ़कर 16.71 करोड़ हो गए हैं। इस महामारी से अब तक कुल 34.6 लाख लोगों की मौत हुई है। वर्तमान में पूरे विश्व में कोरोना संक्रमण मामलों और मरने वालों की संख्या 167,112,793 और 3,469,530 हैं। दुनिया के सबसे ज्यादा मामलों और मौतों की क्रमश: संख्या 33,141,158 और 590,516 के साथ अमेरिका सबसे ज्यादा प्रभावित देश बना हुआ है। कोरोना संक्रमण के मामले में भारत 26,752,447 मामलों के साथ दूसरे स्थान पर है।

ब्राजील 449,858 लोगों की मौतों के साथ दूसरे नंबर पर
आंकड़े के अनुसार 30 लाख से ज्यादा मामलों वाले देशों मे ब्राजील (16,120,756), फ्रांस (5,667,330), तुर्की (5,194,010), रूस (4,952,412), यूके (4,480,760), इटली (4,194,672), जर्मनी (3,659,990), स्पेन (3,647,520), अर्जेंटीना (3,562,135) और कोलंबिया (3,249,433) हैं। ब्राजील 449,858 लोगों की मौत के साथ इस महामारी से हुई मौतों के मामले में दूसरे नंबर पर है। भारत (303,720), मैक्सिको (220,493), ब्रिटेन (127,986), इटली (125,335), रूस (116,812) और फ्रांस (108,819) वे देश हैं, जहां अब तक 100,000 से ज्यादा लोगों की मौत हुई है।