भोपाल. मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में एक लड़की की चर्चा जोरों पर है जो गुस्सा आने पर अपने शरीर पर टैटू गुदवाती है, पुराना भोपाल में रहने वाली इस युवती ने 6 माह में 70 से ज्यादा टैटू अपने शरीर पर गुदवाए है, जिसमें सांप, बिच्छू, छिपकली, मकड़ी है, युवती की मनोदशा को लेकर अब परिजन भी परेशान हो गए है और उन्होने मनोचिकित्सक से इलाज कराना शुरु कर दिया है.

बताया गया है कि युवती का इलाज कर रहे डाक्टर का कहना है कि वह जब भी तनाव या फिर गुस्से में रहती है तो अपने शरीर पर परमानेंट टैटू बनवाती है, टैटू से मिलने वाले दर्द से उसे अपने होने का अहसास होता है, युवती ने भी इस बात को स्वीकारा है कि टैटू की आदत उसकी सेहत के लिए अच्छी नहीं है, अब वह भी गुस्से में टैटू बनवाने की आदत से बाहर निकलना चाह रही है.

युवती ने अपने शरीर पर अजीब से टैटू बनवाए है, जिसमें कही पिस्टल, सांप, जंजीर, मकड़ी, ये सारे टैटू उसके शरीर पर परमानेंट बने है, हालांकि शरीर पर परमानेंट टैटू बनवाने का दौरान हजारो साल पुराना है, समय के साथ उसके उद्देश्य में जरुर परिवर्तन आया है, अब यह स्टेट्स सिम्बल बन गया है. पहले टैटू से आदमी की पहचान होती थी, यदि कोई गुम हो जाए तो तलाश के दौरान कहा जाता था कि उसके साथ में फला भगवान का गुदना बना है, या फिर नाम लिखा है, चक्र बना है, फूल बना है, यहां तक कि जादू-टोना से बचने के लिए टैटू बनवाए जाते थे, अब यह एक स्टेटस सिम्बल बन गया है.