WhatsApp ने अब एक ऐसा अनोखा फीचर जारी किया है जिसकी वजह से गर्लफ्रेंड और ब्वॉयफ्रेंड के बीच की बात कभी लीक नहीं होगी। व्हाट्सएप के इस फीचर से अब आप गूगल ड्राइव और एप्पल क्लाउड पर चैट बैकअप को एंड-टू-एंड एनक्रिप्शन के जरिए सिक्योर कर सकते हैं। व्हाट्सएप ने कहा है कि वो अपने प्लेटफॉर्म पर एंड-टू-एंड एन्क्रिप्टेड चैट बैकअप को रोल आउट कर रहा है। कुल मिलाकर, अब आपकी व्हाट्सएप चैट ज्यादा सिक्योर हो गई है।

व्हाट्सएप ने अपने ब्लॉग पोस्ट में लिखा, "लोग पहले से ही Google ड्राइव और iCloud जैसी क्लाउड-आधारित सर्विस के जरिए अपने व्हाट्सएप मैसेज हिस्ट्री का बैकअप लेते आ रहे हैं। व्हाट्सएप के पास इस बैकअप तक पहुंच नहीं है, इन्हें क्लाउड सर्विस देने वाली कंपनी ही सिक्यॉर करती है। लेकिन अब, अगर यूजर्स एंड-टू-एंड एन्क्रिशन सर्विस को इनेबल करते हैं, तो न तो व्हाट्सएप और ना ही बैकअप सर्विस प्रोवाइडर चैट तक पहुंच पाएंगे।"

व्हाट्सएप का कहना है कि एंड-टू-एंड एन्क्रिशन बैकअप को इनेबल करने के लिए, कंपनी ने एन्क्रिप्शन की स्टोरेज के लिए एक नया सिस्टम डिवेलप किया है, जो iOS और Android दोनों के साथ काम करता है। इस एन्क्रिप्शन सिस्टम के तहत, चैट बैकअप एक यूनीक और अलग तरीके से जेनरेट की गई एनक्रिप्शन की (encryption key) के जरिए एनक्रिप्टेड रहेगा। यूजर्स इस Key को मैन्युअल तरीके से या यूजर पासवर्ड से सिक्यॉर कर सकते हैं।

यह एक महत्वपूर्ण कदम माना जा रहा है, क्योंकि वर्तमान में व्हाट्सएप एनरोइड मोबााइल फोन में बैकअप रखने के लिए गूगल ड्राइव का इस्तेमाल करता है और बैकअप एंड-टू-एंड एनक्रिप्टेड भी नहीं होते है, जिससे कोई दूसरा इन्हें हासिल कर सकता है। व्हाट्सएप पर यह सुविधा एप्पल के आईओएस और एंड्राइड फोन पर आने वाले हफ़्तों में उपलब्ध हो जाएगी। व्हाट्सएप के दुनियाभर में दो अरब से ज्यादा यूजर्स हैं।