WhatsApp अपने यूजर्स के एक्सपीरियंस को बढ़ाने के लिए नए-नए फीचर्स जारी करता रहता है। WhatsApp ने अब एक नया फीचर जारी किया है। इससे यूजर्स की प्राइवेसी ज्यादा सिक्योर रहेगी।

WhatsApp में पहले से गायब होने वाले मैसेज (disappearing messages) का फीचर दिया गया है। पहले इसे सभी चैट के लिए ऑन करना होता था अब यूजर्स  के पास सभी नए वन-ऑन-वन चैट के लिए disappearing messages ऑटोमैटिकली टर्न ऑन करने का ऑप्शन रहेगा।

इसे सेट करने से इन WhatsApp चैट्स के सभी फ्यूचर मैसेज ऑटोमैटिकली डिलीट हो जाएंगे, यानी WhatsApp यूजर्स के पास अब एक नया ऑप्शन होगा जिससे वो नए चैट्स के लिए इस फीचर को डिफॉल्ट टर्न ऑन करके रख सकते हैं।

सेट टाइम के बाद चैट्स से मैसेज अपने आप डिलीट हो जाएंगे। आपको बता दें कि WhatsApp ने डिसअपीयरिंग मैसेज फीचर को पिछले साल नवंबर में जारी किया था। इसमें 7 दिन का ड्यूरेशन दिया गया था।

कंपनी अब डिसअपीयरिंग मैसेज के लिए दो नए ड्यूरेशन को ऐड कर रही है। इसमें यूजर्स को अब 24 घंटे और 90 दिन का भी ऑप्शन मिलेगा। पहले से मौजूद 7 दिन का ऑप्शन अभी भी मौजूद रहेगा। यूजर्स जो इस फीचर का ऑन करेंगे उनके चैट में एक मैसेज डिस्प्ले होगा जो लोगों इस बारे में बताएगा।

अगर यूजर्स मैसेज को परमानेंट रखना चाहते हैं तो वो किसी पार्टिकुलर चैट dissapearing मैसेज फीचर को हटा सकते हैं। ये नया सेटिंग ग्रुप चैट को अफैक्ट नहीं करेगा। WhatsApp ने कहा कि इसने ग्रुप के लिए एक नया ऑप्शन ऐड किया है। इससे ग्रुप क्रिएट करते टाइम डिसअपीयरिंग मैसेज फीचर को एनेबल करने का ऑप्शन मिलेगा।

WhatsApp ने साफ किया है ये फीचर ऑप्शनल है और ये यूजर्स के पिछले चैट को चेंज या डिलीट नहीं करेगा। Disappearing messages सेटिंग से पुराने सेंड किए या रिसीव चैट अफैक्ट नहीं होंगे। इंडीविजुअल चैट के लिए यूजर्स डिसअपीयरिंग मैसेज को ऑन या ऑफ कर सकते हैं।

इस फीचर से अब पुराने डिलीट हुए मैसेज को खोजा नहीं जा सकता है। इससे यूजर्स जो चैट हिस्ट्री को लेकर चिंतित होते हैं वो इसे ऑन करके अपनी प्राइवेसी बनाए रख सकते हैं।