WhatsApp का इस्तेमाल आज के समय में करोड़ों लोग करते हैं। इसको मजेदार बनाने के लिए यह एप मजेदार फीचर्स लाता रहता है। इसी के तहत अब वॉट्सएप ने दो नए फीचर्स को पेश किया है, जो आपको और सुरक्षित रखेगा। वॉट्सएप (WhatsApp) अपने इंस्टेंट मैसेजिंग प्लेटफॉर्म यूजर बेस को बेहतर फीचर और बेहतर सुरक्षा उपाय प्रदान करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहा है. जिनमें से नया 'मैसेज-लेवल रिपोर्टिंग' (Message Level Reporting) और 'फ्लैश कॉल्स' (Flash Calls) के रूप में आता है।

यूजर अब मैसेज-लेवल रिपोर्टिंग फीचर के साथ एक स्पेसिफिक मैसेज को फ़्लैग करके वॉट्सएप को अकाउंट्स की रिपोर्ट कर सकते हैं। यह किसी यूजर को रिपोर्ट करने या ब्लॉक करने के लिए किसी पर्टिकुलर मैसेज को लंबे समय तक दबाकर किया जा सकता है। जब यूजर को ब्लॉक करने की बात आती है तो यह सुविधा आपको कुछ क्लिक बचाती है।

दूसरी ओर, स्पैम मैसेज, टार्गेटेड हैरेसमेंट, अवांछित मैसेज या अवैध या क्रिमिनल नेचर के मैसेज से निपटने के दौरान मैसेज-लेवल रिपोर्टिंग काम आ सकती है, अपनी लेटेस्ट ट्रांसपिरेंसी रिपोर्ट में, वॉट्सएप का कहना है कि उसने अकेले सितंबर में 2.2 मिलियन से अधिक खातों पर प्रतिबंध लगा दिया।

नया "फ्लैश कॉल" उन एंड्रॉइड यूजर्स को सक्षम बनाता है जो अपने डिवाइस पर वॉट्सएप इंस्टॉल या रीइंस्टॉल कर रहे हैं ताकि SMS के बजाय ऑटोमैटेड कॉल के साथ अपने फोन नंबर को वेरिफाई कर सकें। वॉट्सएप का दावा है कि यह एक ज्यादा सुरक्षित विकल्प है, यह देखते हुए कि यह सब ऐप के भीतर से होता है।

वॉट्सएप ने हाल ही में ऐसी विशेषताएं भी जारी की हैं जो यूजर के अनुभव को बढ़ाने में मदद करती हैं जैसे कि गायब होने वाले संदेश, एक बार मैसेज देखें, और परीक्षण के तहत एक नई सुविधा जो आपको अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में स्पेसिफिक लोगों से अपने अंतिम बार देखे जाने को छिपाने की अनुमति देगी। इससे पहले, हमने वॉट्सएप के 'मल्टीपल डिवाइस' फीचर के बारे में भी बताया था जो अन्य डिवाइसों पर मैसेजिंग प्लेटफॉर्म का उपयोग करने के लिए आपके स्मार्टफोन के ऑनलाइन होने की आवश्यकता को हटा देता है।