भारत में कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर जमकर तबाही मचा रही है।  दूसरी लहर में रोजाना 4 लाख के करीब नए मामले सामने आ रहे हैं।  लगातार बढ रहे संक्रमण के चलते अस्पतालों में बेड कम पड़ गए हैं और इलाज के अभाव में रोजोना कई मरीजों की मौत हो रही है।

इस बीच सरकार वैक्सीनेशन पर जोर दे रही है और तेजी से लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही है।  वैक्सीन को लेकर अभी भी लोगों के मन में संशय बना हुआ है और लोग टीका लगवाने से बच रहे हैं।  इसी संशय को दूर करने के लिए सरकार ने नई गाइडलाइन जारी की है, जिसमें साफ बताया गया है कि टीका लगवाने से पहले और बाद में क्या करना जरूरी है और किन चीजों बचकर रहना है। 

स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइडलाइन के अनुसार, अगर आपको पहले से कोई एलर्जी है और पहले भी वैक्सीन लगवाने पर आपको परेशानी हुई थी तो आपको वैक्सीन लगवाने से पहले डॉक्टर को यह बात बता देनी चाहिए।  वैक्सीन से एलर्जी होने पर आपको एलर्जी स्पेशलिस्ट के पास भेजा जाएगा और उसकी सलाह के अनुसार की आगे आपको टीका लगाया जाएगा। 

अगर आपकी तबियत खराब है तो वैक्सीन लगवाने से पहले डॉक्टर के इस बारे में जरूर बताएं. इसके साथ ही प्रेग्नेंसी, कॉम्प्रोमाइज इम्यून सिस्टम और बुजुर्ग व्यक्तियों के कोई गंभीर बीमारी होने पर उन्हें टीका नहीं दिया जाता है।  इन लोगों को डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए और उसी के निर्देश पर आगे अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखना चाहिए। 

वैक्सीन लगवाने के बाद आपके शरीर में कुछ साइड इफेक्ट नजर आते हैं, जिसका मतलब होता है कि बॉडी में वैक्सीन काम कर रही है।  वैक्सीन लगवाने के बाद आपके जिस हाथ में वैक्सीन लगी है उसमें दर्द होना, हल्का बुखार आना, थकान, सरदर्द, मांसपेशियों या ज्वाइंट्स में दर्द आम बात है।  अगर आपको भी वैक्सीन लगवाने के बाद इनमें से कोई परेशानी हो रही है तो चिंता की कोई बात नहीं है वैक्सीन आपके शरीर में काम कर रही है. इनके अलावा कोई समस्या हो या ज्यादा परेशानी हो तो डॉक्टर से संपर्क करें। 

वैक्सीनेशन के बाद टीका लगवाने वाले शख्स का 15 मिनट तक आकलन किया जाता है. वहीं अगर आपको वैक्सीन से कोई एलर्जी है तो 30 मिनट तक आपको वैक्सीनेशन सेंटर में ही रुकना होगा।  इस दौरान अगर आपको कोई परेशानी होती है तो डॉक्टर को बताएं।  इसके अलावा अगर आपको घर आने पर भी ज्यादा परेशानी होती है तो डॉक्टर से संपर्क करें।  वैक्सीनेशन सेंटर पर जाकर आप यह पता कर सकते हैं कि ज्यादा परेशानी होने पर किस डॉक्टर से संपर्क करना है। 

वैक्सीन लगाने के बाद अगर शख्स को किसी अनपेक्षित या गंभीर रिएक्शन और एलर्जी हो रही है तो तुरंत मेडिकल सुपरवाइजर को बताएं. जितनी जल्दी डॉक्टर को आपके बारे में पता चलेगा उतना जल्दी आपका इलाज हो सकेगा और आपको कम से कम परेशानी होगी।