पश्चिम बंगाल सरकार (Government of West Bengal) ने कोविड महामारी खासकर ओमीक्रॉन (omicron) के संक्रमण की स्थिति को देखते हुए ब्रिटेन सहित सभी जोखिम वाले देशों से आने वाली सभी उड़ानों पर रोक लगाने और गैर जोखिम वाले देशों से आने वाले सभी यात्रियों के लिए उनके व्यय पर कोविड की जांच (covid test) अनिवार्य करने का निर्णय लिया है। 

राज्य के अतिरिक्त मुख्य सचिव बी पी गोपालिका ने नागरिक उड्डयन सचिव राजीव बंसल को पत्र लिख कर यह सूचित किया है। अतिरिक्त मुख्य सचिव ने कहा है कि ओमीक्रॉन के मामलों की बढ़ती संख्या को देखते हुए राज्य सरकार ने तीन जनवरी 2022 से अगले आदेश तक ब्रिटेन (UK to Kolkata) एवं केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार जोखिम वाले सभी देशों से आने वाली उड़ानों को अस्थायी तौर पर स्थगित करने का निर्णय लिया है। इन उड़ानों को कोलकाता सहित राज्य के किसी भी हवाई अड्डे पर उतरने की अनुमति नहीं होगी। 

इसके अलावा गैर जोखिम वाले देशों से भी आने वाले सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए आगमन पर कोविड की जांच उनके व्यय पर कराना अनिवार्य किया गया है जिसकी बुकिंग उन्हें यात्रा के पहले से ही करनी होगी। दस प्रतिशत यात्रियों का आरटीपीसीआर टेस्ट और 90 फीसदी का रैपिड एंटीजन टेस्ट (rapid antigen test) कराया जाएगा। रैपिड एंटीजन टेस्ट (rapid antigen test) में पॉजिटिव आने वाले यात्रियों को डाक्टरों की सलाह पर आरटीपीसीआर टेस्ट (RTPCR Test) भी कराना होगा। राज्य सरकार ने नागरिक उड्डयन मंत्रालय से अनुरोध किया है कि इस बारे में वह हवाई अड्डा प्रबंधन को इंतजाम करने के निर्देश दे तथा सभी एयरलाइनों एवं भारतीय मिशनों को सूचित कर दे।