West Bengal Election Results के दौरान BJP ये बड़े चेहरे पीछे चल रहे हैं। टीएमसी को अब तक के रुझानों के मुताबिक 200 से ज्यादा सीटों पर बढ़त मिल चुकी है। वहीं, भाजपा 100 सीटें नहीं छूती दिख रही। इसके साथ ही भाजपा के कई बड़े चेहरे इस चुनाव में पिछड़ते दिखाई दे रहे हैं। इसी के साथ पश्चिम बंगाल चुनावों के परिणामों को लेकर 5 बड़ी बातें सामने आई हैं जो इस प्रकार है—

1. बंगाल में चल रहा ममता का जादू
इस बार के विधानसभा चुनावों में बीजेपी की तरफ से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह समेत कई मंत्रियों ने बंगाल में रैलियां कर ममता पर निशाना साधा था। इसके बावजूद नतीजों में साफ दिख रहा है कि राज्य में अब भी ममता का जादू बरकरार है।
2. बीजेपी के कई बड़े नेता पीछे
अब तक की मतगणना के अनुसार भाजपा के कई बड़े नेता पिछड़ते नजर आ रहे हैं। इनमें बाबुल सुप्रियो, स्वप्नदास गुप्ता और लॉकेट चटर्जी जैसे नाम शामिल हैं। इसका मतलब साफ है कि बीजेपी की तमाम कोशिशों के बाद भी बंगाल के लोगों ने ममता को सपोर्ट किया है।
3. ममता बन सकती है मोदी के खिलाफ विपक्ष का सबसे बड़ा चेहरा
पश्चिम बंगाल में बड़े बहुमत के साथ जीत से ममता की छवि बीजेपी के खिलाफ सबसे मजबूत बनकर सामने आ रही है। तमाम कोशिशों के बाद भी बीजेपी ममता को बहुमत पाने से रोकने में नाकाम दिखाई दे रही है।
4. 200 सीटों के पार टीएमसी
टीएमसी को रुझानों में 200 से ज्यादा सीटें मिलती दिखाई दे रही हैं। ऐसे में एक बात तो साफ है कि पिछले दिनों पार्टी का तमाम नेता साथ छोड़कर बीजेपी में शामिल हो गए, लेकिन उससे टीएमसी के वोट बैंक पर ज्यादा असर नहीं पड़ा है। यानी अब भी लोग टीएमसी पर भरोसा कर रहे हैं।
5. लेफ्ट का सूपड़ा साफ- पिछले विधानसभा चुनावों तक जहां लेफ्ट और टीएमसी के बीच टक्कर देखने को मिलती थी। वहीं इस बार लेफ्ट को 10 सीटें भी मिलती नजर नहीं आ रहीं। इस बार सीधा मुकाबला टीएमसी और बीजेपी के बीच दिखाई दे रहा है। लेफ्ट और अन्य पार्टियों को इस बार भारी नुकसान हुआ है।