पश्चिम बंगाल में चुनाव आयोग की ओर से विधानसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा के बाद इन दिनों चुनाव अभियान जोरों पर है। राज्य में पहले चरण का मतदान 28 मार्च को होगा। सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने राज्य विधानसभा की कुल 294 सीटों में से 291 सीटों पर चुनाव लडऩे की घोषणा की है और उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी है। 

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने 57 उम्मीदवारों की सूची जारी की है। इनमें से ज्यादातर पहले और दूसरे चरण के चुनाव के लिए मैदान में उतरेंगे। कांग्रेस वाम मोर्चा के साथ बंगाल विधानसभा चुनाव लड़ रही है और उसने अभी तक एक सूची जारी की है जिसमें 13 उम्मीदवारों के नाम हैं। कांग्रेस, वाम मोर्चा, भारतीय धर्मनिरपेक्ष मोर्चा, ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) और कुछ अन्य छोटे दल चुनावी मैदान में हैं। राज्य में असली मुकाबला तृणमूल कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के बीच होने के आसार हैं। 

तृणमूल कांग्रेस पार्टी सुप्रीमो एवं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के नेतृत्व में चुनाव लड़ रही है और दूसरी ओर भाजपा ने अभी तक मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित नहीं किया है, जबकि पार्टी में कई कद्दावर नेता हैं। मुख्यमंत्री बनर्जी 10 मार्च को नंदीग्राम सीट से अपना नामांकन पत्र भरेंगी जबकि उनके प्रतिद्वंदी भाजपा उम्मीदवार सुवेंदु अधिकारी दो दिन बाद उसी सीट से अपना नामांकन पत्र भरेंगे। तृणमूल सुप्रीमो ने कहा कि यह एक आसान चुनाव होने जा रहा है। 

उन्होंने कहा,‘‘ यह एक आसान चुनाव, हंसी-खुशी का चुनाव है। हम चुनावी मैदान में उतरेंगे, लड़ेंगे, जीतेंगे।’’ दूसरी ओर भाजपा ने दावा किया है कि वह राज्य विधानसभा में 200 सीटों पर चुनाव जीतेगी। तृणमूल के चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने कहा कि है, ‘‘चुनाव में भगवा पार्टी 99 सीट के पार नहीं जाएगी।’’ गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल की 294 सीटों पर चुनाव मार्च-अप्रैल, 2021 में चुनाव होने जा रहे हैं जिनमें से तृणमूल 221 सीटों पर चुनाव लड़ रही है। 

भाजपा सभी सीटों पर चुनाव लड़ रही है, पार्टी लोकसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल में 18 सीटों पर विजयी हुई थी और राज्य में पार्टी ने खुद को प्रमुख विपक्षी दल के रूप में स्थापित किया है। तृणमूल कांग्रेस के सांसद सौगत रॉय ने कहा कि पार्टी जीत के लिए भरसक प्रयास कर रही है। उन्होंने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि भाजपा दबाव बनाने के लिए बाहरी लोगों को लाने की कोशिश कर रही है। रॉय ने इशारों-इशारों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को बाहरी व्यक्ति बताया। तृणमूल युवा शाखा के सांसद एवं डायमंड हार्बर सीट के सांसद ने कहा कि पश्चिम बंगाल में सुश्री ममता बनर्जी के नेतृत्च में तृणमूल जीतेगी और तीसरी बार मुख्यमंत्री बनेंगी।