पश्चिम बंगाल की बालीगंज विधानसभा सीट पर उपचुनाव में तृणमूल कांग्रेस ने जबरदस्त जीत दर्ज की है। बालीगंज से TMC नेता बाबुल सुप्र‍ियो ने शानदार जीत दर्ज की है। शुरुआती दौर से ही वह यहां पर अच्छी-खासी बढ़त बनाए हुए थे और आखिरकार जीत भी गए। इस सीट पर बीजेपी उम्मीदवर तीसरे तो कांग्रेस चौथे नंबर पर रही। सुप्रियो ने मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी की सायरा शाह हलीम को 2,0038 वोटों से हरा द‍िया।

यह भी पढ़ें : Mob lynching : सरसों के बीज चोरी करने के आरोप में व्यक्ति की पीट-पीट कर हत्या

सुप्रियो ने कहा, "मैं जिस पार्टी में रहता हूं, उस पार्टी के लिए जान भी देता हूं। मुझे यह साबित करने की जरूरत नहीं है। पहले मैंने भाजपा के लिए 2 गोल किए, अब मैं TMC के लिए 10 गोल करूंगा। 20,000 ज्यादा वोटों से मिली जीत को मैं ममता बनर्जी और TMC संगठन को समर्पित करता हूं।"

भाजपा विधायक अग्निमित्र पॉल ने कहा कि बालीगंज में बाबुल सुप्रियो की जीत का अनुमान था, किया घोष ने अच्छी लड़ाई लड़ी। उन्होंने कहा कि हम पुलिस, प्रशासन और चुनाव आयोग से राज्य में हिंसा पर रोक लगाने का आग्रह करते हैं। पश्चिम बंगाल में चुनाव के बाद हिंसा नहीं होनी चाहिए।

यह भी पढ़ें : असम-मेघालय सहित 17 अप्रैल तक पुरे पूर्वोत्तर में भारी वर्षा जारी रहने की संभावना: IMD

आसनसोल लोकसभा सीट बाबुल सुप्रियो के भारतीय जनता पार्टी से तृणमूल कांग्रेस में जाने के बाद सांसद पद से इस्तीफा देने के कारण खाली हुई थी। वहीं, बालीगंज के विधायक एवं राज्य सरकार में मंत्री सुब्रत मुखर्जी के निधन के कारण इस सीट पर उपचुनाव कराने की जरूरत पड़ी। दोनों सीटों पर 12 अप्रैल को उपचुनाव हुए थे। पश्चिम बर्धमान जिले के आसनसोल में कुल 15 लाख मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने के पात्र थे, जबकि दक्षिण कोलकाता के बालीगंज में 2.5 लाख मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकते थे।