बिजी लाइफस्टाइल और खाने पीने की खराब आदतों की वजह से आज ज्यादातर लोग मोटापे या फिर वजन बढ़ते की समस्या से परेशान हैं। जिससे छुटकारा पाने के लिए लोग बेली फैट बर्न करने का दावा करने वाले कई महंगी दवाओं या उपकरणों की तरफ आकर्षित होने लगते हैं।

 हालांकि उनमें से ज्यादातर दावे सच नहीं होते हैं। वजन कम करने के लिए हेल्दी डाइट और थोड़ा सा वर्कआउट सबसे अच्छा तरीका माना गया है। ऐसी ही एक हेल्दी डाइट का नाम है खीरे का पानी। खीरे का पानी रोजाना पीने से व्यक्ति कैलोरी कम करने के साथ-साथ अपने शरीर और पेट की चर्बी को भी तेजी से कम कर सकता है। आइए जानते हैं क्या है इसे बनाने का सही तरीका और फायदे। 

खीरे का पानी बनाने के लिए सामग्री-

-1 खीरा

-1 गिलास पानी

-1 नींबू

-काला नमक स्वादानुसार

खीरे का पानी बनाने की विधि-

खीरे का पानी बनाने के लिए सबसे पहले खीरे को नॉर्मल पानी से धोने के बाद इसे छीलकर पतले स्लाइस में काट लें। अब खीरे की इन स्लाइस को किसी कांच के जार में पानी के साथ डालें। आप खीरे के पानी में नींबू के कुछ टुकड़े भी मिला सकते हैं। नींबू और खीरे के पानी को रात भर रेफ्रिजरेटर में मैरिनेट होने दें। इसे एक सर्विंग गिलास में डालें और इसका रोजाना इसका सेवन करें।

खीरे में पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी और के, पोटेशियम, मैग्नीशियम, जिंक, फ्लेवोनोइड्स, एंटीऑक्सिडेंट और फास्फोरस जैसे सभी जरूरी पोषक तत्व मौजूद होते हैं। खीरे में मौजूद कम कैलोरी और अधिक घुलनशील फाइबर शरीर को हाईड्रेट रखने के साथ वजन घटाकर पाचन तंत्र को मजबूत बनाने में भी मदद करते हैं। खीरे का सेवन करने से कब्ज की समस्या भी दूर होती है। 

खीरे का पानी पीने से शरीर डिटॉक्सीफाई होता है, जिससे व्यक्ति का न सिर्फ पाचन तंत्र मजबूत होता है बल्कि लीवर भी हेल्दी बना रहता है। रोजाना खीरे का पानी पीने से व्यक्ति को भूख कम लगती है जिससे आप अधिक खाने से बच जाते हैं और आपका वजन जल्दी नहीं बढ़ता।  

खीरे का पानी पीने से शरीर में पानी का संतुलन बने रहने में मदद मिलती है। इसके अलावा खीरे के पानी में मौजूद कई विटामिन, खनिज और इलेक्ट्रोलाइट शरीर में आसानी से अवशोषित हो जाते हैं। इसमें मौजूद फाइटोएस्ट्रोजेन और पाचन एंजाइम आंत को लाभ पहुंचाते हैं।