बंगाल की खाड़ी से ताबाही मचाने वाला चक्रवाती तूफान यास बंगाल, ओडिशा और झारखंड होते हुए बिहार तो पहुंच गया है और अब धीरे धीरे कमोजर पड़ता जा रहा है। इसका असर कई राज्यों में देखा जा रहा है। लगातार बारिश से जीवन प्रभावित हो रहा है। इसी तरह से बिहार में भी यास का असर है और इसके कारण से लगातार बारिश हो रही है। पटना समेत कई जिला मुख्यालयों में जलजमाव की स्थिति उत्पन्न हो गई है।


मौसम विभाग ने बताया कि उत्तर बिहार में आज कुछ जगहों पर भारी बारिश हो सकती है। ऐसे बिहार के अधिकतर जिलों में बादल छाए रहेंगे। मौसम विभाग ने इस बीच गया और नवादा जिला के लिए विशेष तौर पर अलर्ट जारी किया है क्योंकि यहां मध्यम से भारी बारिश के बीच वज्रपात की भी आशंका जताई जा रही है। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार यास अब यूपी के पूर्वांचल क्षेत्र में प्रवेश कर चुका है और प्रदेश के अधिकतर हिस्सों में हवा की रफ्तार और बारिश की तीव्रता कम हो गई है।

यास के कारण राज्य के कई जिलों में हुई मूसलाधार बारिश से भारी असर पड़ रहा है।  पटना, गया, पूर्णिया सहित कई जिलों में रिकॉर्डतोड़ बारिश हुई जिससे जगह-जगह जलभराव की स्थिति हो गई है। सबसे अधिक बारिश कटिहार के मनिहारी में दर्ज की गई है। यहां 251.6 मिमी से भी अधिक बारिश हुई है और इसके अलावा कदवा, बरारी, पूर्णिया, परसा, कटिहार उत्तर, अमनौर, बनमनखी, अरवल, शेखपुरा में अत्यधिक यानी भारी से भारी बारिश रिकॉर्ड की गई है।