मौसम फिर से यूटर्न ले रहा है। मार्च का दूसरा पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो गया है। जिसके कारण से कुछ राज्यों में बारिश होने के आसार हैं। बारिश होने से तापमान में गिरावट होगी तपती धूप से छोड़ी राहत मिलेगी। जम्मू-कश्मीर के ऊपर बने पश्चिमी विक्षोभ के कारण मध्य प्रदेश में बादल हैं लेकिन बारिश की कोई संभावना नहीं है। दिल्ली  में अधिकतम तापमान 34 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है।


मौसम विभाग ने बताया कि अगले कुछ दिनों में न्यूनतम तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस तक की वृद्धि होगी। विभोक्ष के कारण बारिश हो सकती है। विभाग के मुताबिक पहाड़ी क्षेत्र में बने पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के कारण शहर में बूंदाबांदी होने आसार हैं। उत्तराखंड में हल्की बारिश के आसार हैं। उत्तरकाशी, चमोली व रुद्रप्रयाग जिले में ओलावृष्टि हो सकती है।

 
बिहार में चिलचिलाती गर्मी होगी। मौसम विज्ञान केंद्र की जानकारी के अनुसार अगले दो हफ्ते तक तापमान के ऐसे ही रहने के आसार हैं। चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र उत्तरी मध्य महाराष्ट्र के ऊपर भी सक्रिय है, जिसका असर तटीय कर्नाटक में दिखने को मिल सकती है। लद्दाख में भूकंप के झटके महसूस किये गये हैं। रिक्टर स्केल पर तीव्रता 3.6 मापी गई है।