IMD के अनुसार Weather Today 6 April इस प्रकार है कि Delhi-NCR समेत देश के 8 राज्यों में बारिश की संभावना है और कुछ में लू चलेगी। भारतीय मौसम विभाग के अनुसार पश्चिम विक्षोभ के असर की वजह से हिमालयी क्षेत्र प्रभावित रह सकता है। इसके चलते जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, गिलगित, बाल्टिस्तान, मुजफ्फराबाद और हिमाचल प्रदेश में अगले दो दिनों में हल्की से लेकर भारी बारिश और बर्फबारी हो सकती है। IMD के अनुसार उत्तराखंड में अगले 72 घंटों में बारिश और बर्फबारी हो सकती है, जिसका असर मैदानी इलाकों में भी दिखायी दे सकता है।

वहीं दक्षिण पश्चिम राजस्थान और पूर्वी राजस्थान में अगले दो दिन तक गर्म हवाएं चल सकती हैं। इसके साथ ही महाराष्ट्र के विदर्भ और मध्य प्रदेश में भी 7 से 9 अप्रैल के दरम्यान दिन में लू चल सकती है। मौसम विभाग ने कहा कि दिल्ली-एनसीआर,  पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी यूपी में बारिश हो सकती है।

दूसरी ओर मौसम विभाग ने सोमवार को कहा कि मासिक औसत अधिकतम तापमान के हिसाब से 121 साल में इस बार तीसरा सबसे गर्म मार्च रहा. महीने के लिए अपनी समीक्षा में मौसम विभाग (आईएमडी) ने कहा कि 1981-2010 की पर्यावरण अवधि में सामान्य 31.24 डिग्री, 18.87 डिग्री और 25.06 डिग्री की तुलना में पूरे देश के लिए मासिक अधिकतम, न्यूनतम और मध्यवर्ती तापमान क्रमश: 32.65 डिग्री सेल्सियस, 19.95 डिग्री सेल्सियस और 26.30 डिग्री सेल्सियस रहा।

मौसम विभाग ने कहा, ‘32.65 डिग्री के साथ मार्च 2021 के दौरान अखिल भारतीय औसत मासिक अधिकतम तापमान पिछले 11 साल में सबसे गर्म रहा और पिछले 121 वर्षों में तीसरा सबसे गर्म मार्च रहा। इससे पहले 2010 और 2004 में यह तापमान क्रमश: 33.09 डिग्री और 32.82 डिग्री सेल्सियस रहा था।’ मौसम विभाग ने अपनी पूर्व की रिपोर्ट में कहा था कि जनवरी और फरवरी भी मध्यवर्ती और न्यूनतम तापमान के हिसाब से 121 साल में तीसरे और दूसरे गर्म महीने रहे थे।

मार्च में देश के कई हिस्से में 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक तापमान दर्ज किया गया। मौसम विभाग ने कहा है कि 29-31 मार्च के दौरान कई जगहों पर लू चल रही थी जबकि पश्चिम राजस्थान के छिटपुट स्थानों पर ‘भीषण लू’ की स्थिति की थी।

विभाग के मुताबिक 30-31 मार्च के दौरान पूर्वी राजस्थान तथा 31 मार्च को ओडिशा और पश्चिम बंगाल के गंगा के मैदानी क्षेत्रों, तटीय आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु के कुछ स्थानों से भी लू चलने की सूचना मिली। मौसम विभाग ने कहा, ‘30 मार्च को बारीपदा (ओडिशा) में अधिकतम तापमान 44.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।’

दिल्ली के कुछ हिस्सों में सोमवार को अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस के पार चला गया। हालांकि, अभी यहां एक और सप्ताह तक गर्म हवाएं चलने की संभावना नहीं है। मौसम विभाग ने यह जानकारी दी। सफदरजंग वेधशाला के मुताबिक, शहर में अधिकतम तापमान 38.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जोकि सामान्य से चार डिग्री अधिक रहा. वहीं, न्यूनतम तापमान 18.5 डिग्री सेल्सियस पर बना रहा।

नजफगढ़, नरेला और पीतमपुरा के मौसम केंद्रों ने अधिकतम तापमान क्रमश: 40 डिग्री सेल्सियस, 40.3 डिग्री और 40.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया। क्षेत्रीय मौसम विभाग के के अनुसार दिल्ली में 11-12 अप्रैल तक गर्म हवाएं चलने की संभावना नहीं है। उन्होंने कहा कि मंगलवार को तापमान में वृद्धि होने का अनुमान है। हालांकि, आने वाले दिनों में तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की गिरावट देखी जा सकती है।