IMD Weather Alert के अनुसार देश के कई राज्यों में भीषण गर्मी के बीच चलेंगे आंधी—तूफान चलेंगे तो कई में झमाझम बारिश होगी। अनुमान है कि हरियाणा और पंजाब में अगले तीन दिन तक आंधी और धूल भरे तूफान चलेंगे। पिछले 24 घंटों में इन राज्यों में प्री मॉनसून गतिविधियां शुरू हुई हैं। कई जिलों में मंगलवार को तेज हवाओं के साथ बारिश भी हुई। रिपोर्ट में कहा दया है कि आंधी और तूफान की गतिविधि 9 मई को एक छोटे से विराम के बाद जारी रहेगी और पहले की तुलना में अधिक तीव्र हो जाएगी। इन दोनों राज्यों में एक सप्ताह तक हीटवेव की स्थिति नहीं है।

स्काईमेट वेदर ने अपने एक अन्य रिपोर्ट में बताया है कि उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़, तेलंगाना, त्रिपुरा, मिजोरम, कर्नाटक, तमिलनाडु और महाराष्ट्र में आने वाले 24 घंटे में बारिश हो सकती है। वहीं दिल्ली राजस्थान और यूपी के कुछ हिस्सों में धूल भरी आंधी और गरज के साथ बारिश हो सकती है। उत्तराखंड असम, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, मणिपुर, पश्चिम बंगाल और सिक्किम में तेज वर्षा की संभावना व्यक्त की गई है।

आईएमडी के मुताबिक, मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में 07 मई को आंधी के साथ बारिश की संभावना है। इसके बाद मौसम साफ रहेगा। वहीं जबलपुर के आसपास के इलाकों में मौमस साफ रहेगा। अभी वर्षा नहीं होगी। वहीं इंदौर के आसपास के इलाकों में 07 मई को आंधी के साथ बारिश हो सकती है। इसके बाद राज्य का मौसम साफ रहेगा।

देश के कुछ हिस्सों में प्री मानसून गतिविधियां शुरू हो गई हैं। आईएमडी ने इस बार मानसून के सामान्य रहने की संभावना जताई । 96 फीसदी से 104 फीसदी के बीच हुई बारिश को औसत या सामान्य मानसून के रूप में परिभाषित किया जाता है। आमतौर पर 1 जून के आसपास केरल के रास्ते दक्षिण पश्चिमी मानसून भारत में प्रवेश करता है। 4 महीने की बरसात के बाद यानी सितंबर के अंत में राजस्थान के रास्ते मानसून की वापसी होती है।