नई दिल्ली। राज्यसभा में सदन के उपनेता मुख्तार अब्बास नकवी ने गुरुवार को कहा कि सदन में लोगों से एक- दूसरे के विचारों के विरोधी हो सकते हैं लेकिन एक दूसरे के दुश्मन नहीं है। 

यह भी पढ़े :  Horoscope March 31 : ये ३ राशि वाले लोग आज जो भी काम करेंगे उसमे सफलता निश्चित है , गणेश जी की आराधना करते रहें

नकवी ने सदन में सदस्यों के विदाई समारोह में कहा कि सदन के संचालन और राष्ट्र निर्माण में सभी का योगदान रहा है। उन्होंने कहा, 'हम एक दूसरे के दुश्मन नहीं है। हमारे एक दूसरे के साथ जो भी मतभेद हैं और कामकाज और तौर तरीकों के लेकर हैं। लेकिन राष्ट्र के निर्माण सभी का योगदान हैं।' 

यह भी पढ़े : भाजपा पार्टी कार्यालय पर हमला : निर्दोष लोगों पर लगाए जा रहे झूठे मुकदमे : TIPRA

नकवी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलना सबसे आसान हैं। विपक्ष के कई सदस्य यह मानते हैं और उनका यह अनुभव भी है। प्रधानमंत्री से कोई भी सदस्य कभी भी अपने क्षेत्र या निजी समस्या को लेकर मिल सकता है। मोदी संवेदनशील व्यक्ति है। नकवी ने सेवानिवृत्त हो रहे सभी सदस्यों को शुभकामनायें दी और कहा कि सभी का समाज एवं राष्ट्र के निर्माण में महत्वपूर्ण योगदान रहा है।