लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण में सात राज्यों की 51 सीटों पर सोमवार को वोट डाले जाएंगे। इस चरण में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, पार्टी की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी, केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह और स्मृति ईरानी समेत कई दिग्गज नेता चुनाव मैदान में हैं। इसके साथ ही धुबड़ी लोकसभा क्षेत्र के पांच मतदान केंद्रों पर वोटिंग होगी। इसके अलावा असम में वोटिंग होगी। गुवाहाटी उपायुक्त कार्यालय में शनिवार को आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में जिला उपायुक्त एवं रिटर्निंग अधिकारी अनंत लाल ज्ञानी बताया की असम की धुबरी क्षेत्र में पांच मतदान केंद्रों पर भी वोटिंग होगी।


इस चरण में आठ करोड़ 75 लाख 88 हजार 722 मतदाता 674 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला करेंगे। इनमें चार करोड़ 63 लाख तीन हजार 342 पुरुष, चार करोड़ 12 लाख 83 हजार 166 महिला और 2,214 किन्नर मतदाता हैं।


उनके लिए 96 हजार 088 मतदान केंद्र बनाये गये हैं। चिलचिलाती गर्मी के बावजूद चुनाव प्रचार में उम्मीदवारों और उनके समर्थकों का जोश बना रहा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष अमित शाह, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी और पार्टी की महासचिव प्रियंका गाँधी वाड्रा समेत विभिन्न पार्टियों के नेताओं ने चुनावी रैलियां की।


सोमवार को पांचवें चरण की समाप्ति के साथ ही लोकसभा की 425 सीटों के लिए मतदान हो जायेगा और शेष दो चरणों में 118 सीटों के लिए मतदान शेष रह जायेगा। इस तरह 17 वें लोकसभा चुनाव का तीन चौथाई से अधिक सफर पूरा हो जायेगा। पांचवें चरण के 674 उम्मीदवारों में कई बड़े नाम हैं। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी उत्तर प्रदेश की अमेठी सीट से मैदान में हैं।


केंद्रीय मंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी उम्मीदवार स्मृति ईरानी से उनका सीधा मुकाबला है। उत्तर प्रदेश के लखनऊ सीट से गृह मंत्री राजनाथ सिंह अपनी चुनावी किस्मत आजमा रहे हैं। यहां समाजवादी पार्टी की पूनम सिन्हा खड़ी हैं जो भाजपा छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए नेता एवं अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा की पत्नी हैं। उत्तर प्रदेश की ही चर्चित रायबरेली सीट से कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी एक बार फिर अपनी चुनावी किस्मत आजमा रही हैं। उनके खिलाफ भाजपा ने दिनेश प्रताप सिंह को टिकट दिया है।


असम में भी वोटिंग

मुख्य चुनाव आयोग के निर्देशानुसार धुबड़ी लोकसभा क्षेत्र के पांच मतदान केंद्रों पर वोटिंग होगी। जिला उपायुक्त कार्यालय में शनिवार को आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में जिला उपायुक्त एवं रिटर्निंग अधिकारी अनंत लाल ज्ञानी ने यह जानकारी दी है।

जिला उपायुक्त ज्ञानी ने संवाददातओं को बताया कि 25 नंबर धुबड़ी लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत गोलकगंज की मतदान केंद्र संख्या 232 नव भारत पाठशाला हाई स्कूल, 21 मानकाचर क्षेत्र की केंद्र संख्या 167 बाउसकाटा एमई मदरसा, मतदान केंद्र संख्या 22 कातोलीपाड़ा एम ई मदरसा, दक्षिण सालामारा क्षेत्र की 445 लाउखोवा एलपी स्कूल स्थित मतदान केंद्र संख्या 219 और 23 धुबड़ी क्षेत्र अंतर्गत 743 वानी विद्या मंदिर एलपी स्कूल स्थित मतदान केंद्र संख्या 13 पर फिर से मतदान प्रक्रिया संपन्न कराई जाएगी।

ज्ञानी ने आगे की जानकारी में बताया कि हमारी स्क्रिनिंग प्रक्रिया में दो खामियां पाई गई थी तथा चुनाव आयुक्त को अवगत कराने के पश्चात उच्च चुनाव आयोग की ओर से छह मई को उपरोक्त केंद्रों पर फिर से मतदान कराने का निर्देश दिया गया है। संवाददाताओं द्वारा इन पांच मतदान केंद्रों पर फिर से मतदान कराने की आवश्यकताओं के बारे में पूछे गए सवाल के जवाब में ज्ञानी ने बताया कि इनके दो मुख्य कारण हैं, वास्तविक चुनाव के लिए जरूरी पहला कारण पर्ची के आधार पर मतदान और दूसरी माॅक पोल के बाद वह स्थिति हटाई नहीं गई थी। जिसकी वजह से दो अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया था।

आगामी रविवार को धुबड़ी और गोलकगंज खंडों में पुनः मतदान के लिए नियुक्त पीठासीन अधिकारी धुबड़ी से अपने ईवीएम और वीवीपैट सहित अन्य सामग्रियों को धुबड़ी से ले जाएंगे। सुबह 7 बजे से शाम 5 बजे के बीच मतादन करवाए जाएंगे और उक्त दिन यानी 6 मई को मतदान क्षेत्र में स्थानीय अवकाश रहेगा। धुबड़ी जिला चुनाव अधिकारी जिंदू बोरा ने बताया कि धुबड़ी लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र में इस बार 90.47 प्रतिशत मतदान हुआ, जो कि 2014 में हुए मतदान प्रतिशत से कही अधिक है। 2014 में 88.49 प्रतिशत मतदान रिकार्ड किया गया है।