दूरसंचार क्षेत्र में टैरिफ युद्ध के साथ ही सरकारी शुल्कों के बकाये भुगतान के कारण बने आर्थिक दबाव के कारण टेलीकॉम ऑपरेटरों वोडाफोन आइडिया लिमिटेड और भारती एयटेल ने नये प्लान पेश किए हैं जिससे अब कॉल दरों के साथ ही मोबाइल इंटरनेट भी महंगा हो गया है। दोनों कंपनियों की नई दरें तीन दिसंबर से राष्ट्रीय स्तर पर प्रभावी हो जायेंगी।


अब वोडाफोन आइडिया या एयरटेल से भी दूसरे ऑपरेटरों पर एक निर्धारित सीमा से अधिक कॉल करने पर छह पैसे प्रति मिनट का शुल्क लगेगा। वोडाफ़ोन ने रविवार को यहां जारी एक बयान में यह जानकारी देते हुये प्रीपेड उत्पाद और सेवाओं के लिए दो दिन, 28 दिन, 84 दिन और 365 दिनों के नये प्लान पेश किये।


नये प्लान पुराने प्लानों की तुलना में करीब 40 फीसदी तक महंगे हैं। इसके साथ ही कंपनी ने दूसरे ऑपरेटरों पर किये जाने वाले कॉल की भी सीमा निर्धारित कर दी है। अब ग्राहक वोडाफोन आइडिया से एयरटेल, बीएसएनएल और जियो पर एक निर्धारित सीमा तक ही कॉम कर सकेंगे।


वोडाफोन से वोडाफोन या वोडाफोन से आइडिया या आइडिया से वोडाफोन या आइडिया से आइडिया के कॉल को ऑन नेट कॉल माना जायेगा जबकि वोडाफोन आइडिया से दूसरे ऑपरेटरों पर कॉल को ऑफ नेट कॉल माना जायेगा और निर्धारित सीमा से अधिक कॉल करने पर छह पैसे प्रति मिनट का शुल्क लगेगा। इसी तरह से एयरटेल का टैरिफ 50 पैसे से लेेेकर 2.85 रुपए प्रति दिन महंगा हो गया है। एयरटेल ने भी निर्धारित सीमा से अधिक काल करने पर 6 पैसे प्रति मिनट का शुल्क वसूलगी।