VLC Media Player एक लोकप्रिय मीडिया प्लेयर है जिसे दुनिया भर में यूज किया जाता है। इस प्लेटफॉर्म के जरिए आप वीडियोज और ऑडियोज आसानी से प्ले कर सकते हैं। इसकी लोकप्रियता इसलिए भी ज्यादा है क्योंकि ये एक पेड प्लेटफॉर्म नहीं है और इसके सभी फीचर्स का लाभ फ्री में उठाया जा सकता है। अगर आप भी इस मीडिया प्लेयर को यूज करते हैं तो हम आपको बता दें कि हाल ही में एक रिपोर्ट सामने आई है जिसके हिसाब से हैकर्स इस प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करके आपके ऊपर जासूसी कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें : गुवाहाटी में लोकसभा अध्यक्ष बिड़ला बोले - सावधानीपूर्वक बहस के बाद कानून बनाया जाना चाहिए

Symantec Cyber Security Unit की एक रिपोर्ट के मुताबिक चीनी साइबर क्रिमिनल ग्रुप, Cicada वायरस को फैलाने के लिए वीएलसी मीडिया प्लेयर का इस्तेमाल कर रहे हैं। Cicada सरकारी और अन्य कंपनियों की जासूसी करने के लिए विंडोज कंप्यूटर और लैपटॉप पर इस मीडिया प्लेयर का इस्तेमाल कर मैलवेयर को फैला रहे हैं।

अब कई देश इस मैलवेयर अटैक का सामना कर रहे हैं जिनमें कनाडा, अमेरिका, टर्की, हॉन्ग-कॉन्ग, मोंटेनेग्रो, इजराइल, इटली और भारत के नाम शामिल हैं। अगर आप सोच रहे हैं कि वीएलसी मीडिया प्लेयर से किस तरह जासूसी की जा रही है जान लीजिए कि ये हैकिंग ग्रुप इस मीडिया प्लेटफॉर्म के क्लीन वर्जन को कैप्चर करके इसमें 'मीडिया प्लेयर एक्सपोर्ट फंक्शन' की मदद से वायरस वाली फाइल को डाल रहे हैं। एक बार जब सॉफ्टवेयर में मैलवेयर फाइल डाल दी जाती है, Cicada सिस्टम का पूरा कंट्रोल वीएनसी रिमोट-एक्सेस सर्वर के जरिए ले लेते हैं।

यह भी पढ़ें : त्रिपुरा बजट : डॉ अजय कुमार ने बीजेपी पर लगाया आरोप , सरकार आदिवासी इलाकों को कर रही है वंचित

इस तरह की हैकिंग से बचने के लिए अपने सॉफ्टवेयर को अपडेट रखें और अपने डिवाइस को सुरक्षित रखने के लिए एंटी-वायरस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करें। अपने जरूरी डेटा का बैअकप जरूर कर लें और अनजान वेबसाइट्स के लिंक पर क्लिक न करें। ऐसा करने से आपके पैसे और जरूरी डेटा के चोरी होने की संभावना बहुत बढ़ जाती है।