रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन अगले साल अपनी कुर्सी छोड़ सकते हैं। दरअसल एक रिपोर्ट में ये दावा किया गया है कि अपने स्वास्थ्य संबंधी कारणों के चलते राष्ट्रपति पुतिन पद छोड़ सकते हैं। कहा गया है कि पिछले कुछ समय से पुतिन की तबीयत ठीक नहीं है और उन्हें कई बार इसके चलते परेशानी में भी देखा गया।

इस रिपोर्ट में दावा किया गया है कि पुतिन पार्किंसन नाम की बीमारी से पीड़ित हो सकते हैं। इस बीमारी से किसी भी शख्स को चलने में परेशानी, मुश्किल से सीधा खड़ा होना और शरीर में कंपकंपी जैसे लक्षण होते हैं। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि पुतिन में भी ऐसे ही कुछ लक्षण देखने को मिले हैं। रिपोर्ट में मॉस्को के पॉलिटिकल साइंटिस्ट वेलेरी सोलेवी के हवाले से ये बातें कही गई हैं।

कहा गया है कि अगले साल की शुरुआत में, यानी जनवरी में पुतिन अपने रिटायरमेंट का ऐलान कर सकते हैं। हालांकि दूसरी तरफ पुतिन के स्टाफ का कहना है कि ऐसा कुछ भी नहीं है। उन्होंने इन सभी खबरों को अफवाह बताया। साथ ही पुतिन भी आए दिन अपनी तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर करते रहते हैं, जिसमें उन्हें हंटिंग, हॉर्स राइडिंग करते देखा जा सकता है।

बता दें कि पुतिन रूस में सबसे लंबे समय तक सत्ता में रहने वाले दूसरे राष्ट्रपति हैं। उन्होंने 20 साल सत्ता में बिताए हैं, इससे पहले स्टालिन ने सबसे लंबे समय तक रूस की सत्ता संभाली थी। पुतिन अभी 68 साल के हैं। हाल ही में रूस में हुए जनमत संग्रह के दौरान 78 फीसदी वोटरों ने संविधान में बदलाव को मंजूरी दी थी, जिसके मुताबिक राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन 2036 तक सत्ता में रह सकते हैं। पुतिन का मौजूदा कार्यकाल 2024 में खत्म हो रहा है।