भाजपा के विधायक बिश्वबंधु सेन को गुरुवार को त्रिपुरा विधानसभा का उपाध्यक्ष चुना गया। वह इस पद के लिए निर्विरोध निर्वाचित हुए।


प्रश्र काल के बाद, विधानसभा अध्यक्ष रेबती मोहन दास ने इस पद के लिए सेन के चुने जाने की घोषणा की, क्योंकि उनके विरोध में किसी और सदस्य ने नामांकन नहीं भरा था।


मुख्यमंत्री बिप्लव कुमार देब, शिक्षा, कानून मंत्री रतन लाल नाथ और नेता प्रतिपक्ष मानिक सरकार ने सेन को बधाई दी और विधायक के तौर पर उनके कार्यकाल की सराहना की।


वह कांग्रेस के टिकट से वर्ष 2008 व वर्ष 2013 में धर्मनगर विधानसभा क्षेत्र से विधायक चुने गए थे, लेकिन इस वर्ष 18 फरवरी को होने वाले चुनाव से पहले वह भाजपा में शामिल हो गए और इस क्षेत्र से फिर से चुने गए।