पटना। बिहार में विशेष सतर्कता इकाई (SVU) ने शुक्रवार सुबह कई जिलों में राज्य के खान एवं भूविज्ञान मंत्री जनक राम के ओएसडी (Mines and Geology Minister Janak Ram OSD) और उनके रिश्तेदारों की संपत्तियों पर छापेमारी की। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि फिलहाल पटना, कटिहार और अररिया जिलों में आवासों और कार्यालयों में छापेमारी जारी है।

यूनिट ने 25 नवंबर को जनक राम के ओएसडी मृत्युंजय कुमार (OSD Mrityunjay Kumar), उनके भाई धनंजय कुमार और उनकी प्रेमिका रत्ना चटर्जी के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम 1988 की धारा 13(1बी), 13(2) और 12 और आईपीसी की धारा 120बी के तहत पटना विजिलेंस थाना में प्राथमिकी दर्ज की थी।

एसवीयू के एडीजीपी नय्यर हसनैन खान के कार्यालय से जारी पत्र के अनुसार, गुरुवार को विशेष सतर्कता न्यायालय, पटना द्वारा उनके खिलाफ सर्च वारंट जारी किया गया था।

विजिलेंस टीम ने दिल्ली, कोलकाता और पश्चिम बंगाल के अन्य हिस्सों में संपत्तियों के कई दस्तावेज बरामद किए। इसके अलावा, अधिकारियों ने अररिया जिले के रत्ना चटर्जी के घर से 15 लाख रुपये नकद भी बरामद किए हैं।

इससे पहले दिल्ली पुलिस ने जनक राम के निजी सचिव बबलू कुमार आर्य को भ्रष्टाचार के आरोप में गिरफ्तार किया था।