2022 की बड़ी नीलामी से पहले आईपीएल (IPL 2022)  की आठ पुरानी टीमों ने कुल 27 खिलाड़ियों को रिटेन किया है और इस रिटेंशन में वेंकटेश अय्यर (Venkatesh Iyer) को मिली 40 गुना हाइक सबसे ज्यादा हैरान करने वाली है जबकि जम्मू कश्मीर के तेज गेंदबाज उमरान मालिक (umran owner) को भी बड़ा फायदा पहुंचा है। 2021 की नीलामी में केकेआर ने मध्य प्रदेश के हरफनमौला वेंकटेश अय्यर (Venkatesh Iyer) को 20 लाख रूपये के बेस प्राइज में  खरीदा था।

नवंबर में भारत के लिए पदार्पण करने वाले अय्यर को इस बार केकेआर (KKR) ने आठ करोड़ रूपये में रिटेन किया है। यह 2021 नीलामी की कीमत से 40 गुना ज्यादा कीमत है। यह ऐतिहासिक रूप से बेस प्राइज से सबसे  ज्यादा कीमत तक पहुंचने का रिकॉर्ड नहीं है क्योंकि 2015 में मुंबई इंडियंस (MI) ने हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) को 10 लाख रूपये के बेस प्राइज  में खरीदा था, जबकि 2018 में मुंबई ने उन्हें 110 गुणा  ज्यादा 11 करोड़ रूपये दिए। जम्मू एंड कश्मीर के तेज गेंदबाज उमरान मलिक को सनराइर्स  हैदराबाद ने चार करोड़ रूपये में रिटेन किया है। मलिक दूसरे अनकैप्ड खिलाड़ी हैं, जिन्हें उनके राज्य के ही दोस्त अब्दुल समद के साथ एसआरएच ने रिटेन किया है। मलिक ने जहां तीन तो वेंकटेश ने 2021 में मात्र 10 मैच खेले हैं। पहले यह रिकॉर्ड संजू सैमसन (Sanju Samson) के साथ था, जिन्हें राजस्थान रॉयल्स ने मात्र 11 आईपीएल मैचों के बाद रिटेन किया था। उसी साल एक और अनकैप्ड खिलाड़ी मनन वोहरा को किंग्स 11 पंजाब ने 12 मैचों के बाद रिटेन कर लिया था। 14 करोड़ रूपये सनराइजर्स हैदराबाद, न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन को देगी। यह किसी विदेशी खिलाड़ी को दी जाने वाली सबसे ज्यादा अधिक रिटेंशन  कीमत है।

2018 में सनराइर्ज ने केन को तीन करोड़ रूपये में खरीदा था। 2018 में खरीदे जाने से पहले सनराइर्ज ने केन को 2015 में 60 लाख रूपये में खरीदा था और अगले तीन सीजन में यही कीमत दी थी। 2012 में कोलकाता नाइटराइडर्स (KKR) ने त्रिनिदाद के एक अनजाने मिस्ट्री स्पिनर सुनील नारायण (Sunil Narayan) को खरीदा था। इस खिलाड़ी ने 2011 में चैंपियंस लीग टी20 में बेहतरीन प्रदर्शन किया और उनकी कीमत 5.23 करोड़ रूपये तक पहुंच गई। उस समय तक नारायण वेस्टइंडीज के लिए केवल तीन मैच खेले थे और उनका बेस प्राइज मात्र 37 लाख रूपये था। 2014 में नारायण को 9.5 करोड़ रूपये में रिटेन किया गया। चार साल बाद 2018 की बड़ी नीलामी में नारायण को एक बार दोबारा 8.5 करोड़ में रिटेन किया गया। आईपीएल रिटेंशन के मुताबिक़ नारायण को केकेआर ने दूसरे खिलाड़ी के तौर पर इस बार रिटेन किया है। इसका मतलब है कि इस बार नारायण को सिर्फ छह करोड़ रूपये मिलेंगे , जो कि 2018 की उनकी क़ीमत से 29 प्रतिशत कम है। जहां तक आईपीएल नीलामियों की बात है तो ग्लेन मैक्सवेल सबके चहेते रहे हैं। उन्हें पहले बड़ी क़ीमत में खरीदा गया, लेकिन किसी ने भी ग्लेन मैक्सवेल को अपनी टीम में रिटेन नहीं किया। पहली बार रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने उन्हें 12 करोड़ रूपये की कीमत में रिटेन किया है। यह पहली बार है जब मैक्सवेल को किसी टीम ने रिटेन किया है। अब तक उन्होंने चार फ्रेंचाइजी के लिए कुल नौ सीजन में खेला है, जिसमें दिल्ली डेयरडेविल्स (Delhi Daredevils), मुंबई इंडियंस, किंग्स 11 पंजाब और रॉयल चैलेंजर्स। आठ में से चार फेंचाइजी चेन्नई सुपर किंग्स, दिल्ली कैपिटल्स, केकेआर और मुंबई इंडियंस ने चार खिलाड़यिों को रिटेन किया है। मुंबई और चेन्नई ने इन चार खिलाड़ियों के लिए 42 करोड़ रूपये खर्च किए हैं, जबकि दिल्ली ने इन चार खिलाड़ियों पर 50 लाख अधिक कुल 42.50 करोड़ रूपये खर्च किए। वहीं कोलकाता ने चार खिलाड़ियों को रिटेन करने के लिए सिर्फ 34 करोड़ रूपये खर्च किए हैं, इसका मतलब है कि उन्होंने आठ करोड़ रूपये बचाए हैं।