हर व्यक्ति के जीवन में वास्तु शास्त्र का बहुत महत्व होता है। लोगों की हर मुश्किल का हल वास्तु शास्त्र में बताया गया है। यह शास्त्र इंसान को हर तरह की समस्याओं से बाहर निकलने में मदद करता है। वास्तु केवल आपके फर्नीचर को एक निश्चित तरीके से रखने या अपने घर को एक विशेष दिशा में बनाने के बारे में नहीं है, बल्कि आपको घर में क्या रखना चाहिए और क्या नहीं, इसके बारे में भी बताता है। अगर आप सूई को गलत तरीके से रख रहे हैं तो इसमें भी वास्तु दोष पाया जा सकता है। इन वास्तु नियमों का पालन न करने पर इसका सीधा प्रभाव व्यक्ति के जीवन पर कई तरह से पड़ सकता है। यहां हम आपको बता रहे हैं कि घर की दहलीज कौनसी चीजें नहीं रखनी चाहिए ताकि सुख और समृद्धि बनी रहे..

गंदा पानी
इस बात का ध्यान रखें कि आप घर के अंदर और आसपास गंदा पानी न बहने दें। इससे न केवल आंखों में जलन होती है, बल्कि इसे खराब वास्तु भी माना जाता है। वास्तु के अनुसार घर के आसपास गंदा पानी होने से नकारात्मकता आती है और घर के लोगों को अपमान का शिकार होना पड़ सकता है।

कांटेदार पौधे
वास्तु के अनुसार घर के आसपास या घर के बगीचे में कांटेदार पौधे भी नहीं लगाने चाहिए। इससे परिवार के सदस्यों का स्वास्थ्य खराब होता है और कई तरह की स्वस्थ्य संबंधी समस्याएं बनी रहती हैं। कांटेदार पौधे होने से घर में कलह भी हो सकता है।

कूड़ा
आमतौर पर लोग कूड़े को घर के बाहर ही फेंक देते हैं, यह सोचकर कि क्लीनर इसे इकट्ठा कर लेगा। पर घर के बाहर कूड़ा फेंकने से वास्तु खराब होता है। घर के बाहर कूड़ेदान रखने से घर में आर्थिक परेशानी होती है और इससे परिवार जल्द ही कर्ज में डूब जाता है।

पत्थर
वास्तु के अनुसार कभी भी घर के बाहर पत्थर जमा न होने दें। अगर आपका घर बन रहा है, तो काम खत्म होने पर सभी पत्थरों को हटा देना चाहिए। घर के बाहर पत्थरों का होना परेशानी का प्रतीक है। इससे परिवार को सफलता की राह में बहुत सारी रुकावटों का सामना करना पड़ सकता है।

बिजली के खंभे
घर के बाहर बिजली के खंभों का लगा होना आम बात है, लेकिन न सिर्फ जोखिम भरे होते हैं बल्कि इन्हें वास्तु के हिसाब से खराब माना जाता है। वास्तु के अनुसार जैसे बिजली के खंभों के सारे तार उलझे हुए होते हैं, वैसे ही आपके जीवन भी उलझ जाएगा।

घर की दहलीज
वास्तु के अनुसार वास्तु व‌िज्ञान के अनुसार घर की दहलीज यानी मुख्य द्वार से ऊंची सड़क का होना कष्टकारी हो सकता है। इससे घर में रहने वालों की सेहत में उतार-चढ़ाव बना रहता है।

घने पेड़
वास्तु के अनुसार घर के आगे बड़े या घने पेड़ लगे होना खराब माना जाता है। चूंकि धूप और हवा दोनों का प्रवाह रुक जाता है और यह खराब वास्तु का प्रतीक माना जाता है। यह घर में पॉजिटिव वाइब्स के प्रवाह को भी रोकता है।

बेल
वास्तु के अनुसार घर के आगे से बेल का ऊपर चढ़ना अशुभ होता है। ऐसा कहा जाता है इससे व‌िरोध‌ियों और शत्रुओं की संख्या बढ़ती है ज‌िससे उन्नत‌ि में बाधा आती है।

दूध न‌िकलने वाले पौधे
वास्तु व‌िज्ञान के अनुसार घर के आगे दूध न‌िकलने वाले पौधे का होना खराब वास्तु का प्रतीक है। इसलिए घर में इस तरह के पौधे लगाने से बचना चाहिए।