जिंदगी में कई बार इंसान छोटी—छोटी ऐसी गलतियां कर बैठता है जो उसें कंगाल बना देती हैं। वास्तु शास्त्र के अनुसार वास्तु से जुड़ी गलतियों के कारण मुश्किल खड़े हो जाते हैं। साथ ही घर में बरकत नहीं होती है। इसके अलावा व्यक्ति कर्जों के बोझ से परेशान रहता है। जिसे चुका पाना नामुमकिन सा लगने लगता है। वास्तु शास्त्र में ऐसी तमाम गलतियों के बारे में बताया गया है जो हमें नहीं करनी चाहिए। तो जानिए...

यह भी पढ़ें : सरकार को अरूणाचल में बड़ी कामयाबी, एक ही झटके में सरेंडर करवाई 2000 से अधिक एयर गन

घरों में कूड़े के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले डस्टबिन को घर बाहर या प्रवेश द्वार पर नहीं रखना चाहिए। यदि कोई ऐसा करता है उससें लक्ष्मी नाराज हो जाती हैं। वास्तु के जानकार बताते हैं कि इस गलती से इंसान कंगाल तक हो सकता है। ऐसे में घर के प्रवेश द्वार को हमेशा साफ-सुथरा रखना चाहिए।

कई लोग घर में बिस्तर पर आराम से बैठकर खाना खाते हैं। वास्तु शास्त्र में इसे लेकर कड़ी चेतावनी दी गई है। वास्तु शास्त्र के जानकार बताते हैं कि इस एक गलती के कारण इंसान गरीब बन सकता है। इसके अलावा इस गलती से परिवार की सुख-सृद्धि में बाधा उत्पन्न होती है।

किचन में जूठे और खुले खाली बर्तन रखना अशुभ है। अगर किसी कारण से रात में झूठे बर्तन साफ नहीं करते तो उन्हें किचन में ना रखें। रात में किचन को अच्छे से साफ करके ही बिस्तर पर जाना चाहिए। दरअसल ऐसा ना करने से जीवन में आर्थिक संकट आता है।

यह भी पढ़ें : अरूणाचल की बेटियों ने किया नाम रोशन, राष्ट्रीय राफ्टिंग चैंपियनशिप में जीता सिल्वर

दान का शास्त्रों में विशेष महत्व बताया गया है। हालांकि शाम के वक्त कुछ चीजों दूसरों को नहीं देनी चाहिए। वास्तु शास्त्र के मुताबिक शाम के समय दूध, दही और नमक का दान नहीं करना चाहिए, क्योंकि ऐसा करने से घर में दरिद्रता का वास होने लगता है।

रात के समय बाथरूम में पानी के बर्तनों को खाली नहीं रखना चाहिए। बाथरूम में कम से कम एक बाल्टी पानी से भरा हुआ रहना चाहिए। ये घर की नकारात्मक ऊर्जा को खत्म कर देता है। साथ ही आर्थिक तंगी से भी बचाता है।