आदमी एक बेहतर जिंदगी गुजरने के लिए काफी मेहनत करता है, लेकिन हर किसी को अच्छी जिंदगी नहीं मिलती है. कई लोग अमीर बनकर ऐशो-आराम की जिंदगी बिताते हैं तो कुछ लोग आर्थिक तंगी से परेशान रहते हैं. इसके पीछे की वजह घर का वास्तु दोष हो सकता है. घर में वास्तु दोष होने से नकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश होता है और कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है. ऐसे में जरूरी है कि घर के वास्तु को ठीक किया जाए. इसके लिए यहां कुछ उपाय बताए गए हैं.

यह भी पढ़े : Navratri : इस बार नौ दिनों की होगी नवरात्रि, कलश स्थापना 26 सितंबर को, जानिए महाष्टमी, महानवमी की सही डेट

हल्दी के पानी का छिड़काव

घर का मुख्य द्वार हमेशा साफ-सुथरा होना चाहिए. इससे मां लक्ष्मी का आगमन होता है. सुबह उठकर नहाने के बाद मंदिर में पूजा करने के बाद घर के मुख्य दरवाजे पर जल में हल्दी डालकर उसके छीटें मारें. इसके बाद दरवाजे के दोनों कोनों पर साफ जल डालें. ऐसा करने से सकारात्मक ऊर्जा का संचार होगा. वहीं, सुबह रोजाना घर और मुख्य दरजावे पर झाड़ू लगाने से भी पॉजीटिव एनर्जी आती है.

स्वास्तिक का चिह्न

घर के मुख्य दरवाजे पर स्वास्तिक का चिह्न बनाना चाहिए. अगर घर का मुखिया या घर का सबसे बड़ा बेटा इसे बनाया तो काफी शुभ माना जाता है. सूर्यास्त के बाद रोजाना मंदिर में दीपक जलाएं और एक दीपक घर के मुख्य द्वार पर भी रखें.

दरवाजा हो एकदम दुरुस्त

वास्तु शास्त्र के अनुसार, घर का मुख्य दरवाजा टूटा-फूटा नहीं होना चाहिए और न ही इसे खोलते और बंद करते समय आवाज आनी चाहिए. इससे वास्तु दोष होता है. घर में कभी टूटी वस्तुएं नहीं रखनी चाहिए. वहीं, बेकार पड़ी वस्तुओं को भी तुरंत हटा देना चाहिए.

यह भी पढ़े :  Horoscope Today 18 September : मेष, मिथुन, सिंह वालों के लिए आज बड़ा दिन , मिलेगी सफलता, चमकेगा भाग्य

नमक के पानी का पोछा

घर में रोजाना नमक के पानी का पोछा लगाएं. इससे नकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव कम होता है. मुख्य द्वार के पास लॉबी में अंधेरा न रखें. अच्छी रोशनी होने से ऊर्जा का प्रवाह बने रहता है. वहीं, घर के मुख्य दरवाजे के पास कभी जूते रखनी वाली जगह या शू रैक न रखें, क्योंकि ऐसा करने से सकारात्मकता ऊर्जा नहीं आती है.