दिल्ली में वॉक ऑफ वैक्सीनेशन काम कर रहा है। अब आम आदमी पार्टी (AAP) के शिक्षक संगठन दिल्ली टीचर्स एसोसिएशन (DTA) और छात्र संगठन सीवाईएसएस (CYSS) ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पत्र लिखकर कॉलेजों में वैक्सीनेशन सेंटर खोलने की मांग की है। संगठनों ने मांग की है कि वैक्सिनेशन सेंटर दिल्ली सरकार द्वारा वित्त पोषित 28 कॉलेजों में आगामी शैक्षिक सत्र 2021-2022 के प्रारंभ होने से पहले खोले जाएं और कॉलेजों में पढ़ने वाले छात्रों को मुफ्त में वैक्सीन लगाई जाए।

 


संगठनों ने मांग रखते हुए कहा कि कोविड-19 की तीसरी लहर आने से पहले छात्रों को सुरक्षित रखा जाए तो बेहतर होगा। स्कूलों के साथ साथ कॉलेजों में भी वैक्सीनेशन सेंटर का होना बहुत ही जरूर है। DTA और CYSS ने बताया है कि “ कोरोना वायरस महामारी से भारत में तीन लाख से अधिक मौत हो चुकी है। कोरोना को रोकने का एकमात्र विकल्प वैक्सीन है, जितनी जल्दी हो सकें हम अपने छात्रों को वैक्सीन लगाएंगे उतनी ही जल्दी हम कोरोना को काबू में कर पाएंगे  ”।


आईडी कार्ड से लगवा सकें मुफ्त वैक्सीन


DTA के प्रभारी डॉ. हंसराज सुमन ने कहा कि “ जिस तरह से दिल्ली सरकार दिल्ली वासियों को वैक्सीन उपलब्ध करा रही है, ठीक उसी तरह से उन्हें दिल्ली सरकार द्वारा वित्त पोषित अपने 28 कॉलेजों के छात्रों की तरफ भी ध्यान देना होगा और सरकार छात्रों को फ्री में वैक्सीन लगाएं ”। दूसरी ओर CYSS के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष चंद्रमणि देव ने बताया कि “दिल्ली विश्वविद्यालय के दिल्ली सरकार द्वारा फंडेड कॉलेजों में छात्रों को मुफ्त वैक्सीन लगाई जाए। ताकि ग्रामीण क्षेत्रों से आने वाले गरीब छात्र भी अपनी कॉलेज आईडी कार्ड दिखाकर मुफ्त वैक्सीन लगवा सके ”।