उत्तराखंड में विधानसभा चुनावों अभी परिणाम की घोषणा की जा रही है। भाजपा को बहुमत मिल रहा है और कांग्रेस भी 25 सीटें आगे चल रही है। इसी बीच आम आदमी पार्टी ने भी अपना खाता खोल लिया है। परिणामों के रूझानों के बीच Congress के दिग्गज नेता हरीश रावत भी जोश में आते दिख रहे हैं।
Harish Rawat ने कैलाश विजयवर्गीय की ओर ​इशारा करते हुए कहा कि " जो दल बदल में माहिर माने जाते हैं और जिनकी बिहार में, बंगाल में पिटाई हुई है, भारतीय जनता पार्टी के नेता उन्हें भी यहां लेकर आएं हैं, लेकिन हम लोग सतर्क हैं "।


यह भी पढ़ें- Uttarakhand election result 2022 UPDATE: भाजपा 36 और कांग्रेस 25 सीट पर आगे


उत्तराखंड चुनावों की मतगणना से जिस तरह शुरुआती रुझान आ रहे हैं, उसमें BJP और कांग्रेस दोनों ही कुछ ही सीटों से आगे पीछे चल रहे हैं। ऐसे में यदि किसी एक पार्टी को बहुमत न मिल पाने की स्थिति में छोटे दल और निर्दलीय उम्मीदवारों की भूमिका बढ़ सकती है। इस परिस्थिति से निबटने के लिए सूबे के दोनों ही बड़े सियासी दल ने अपनी छोटे दलों और निर्दलीय उम्मीदवारों समेत अपने प्रत्याशियों पर पैनी नजर बना रखी है।
यह भी पढ़ें- उत्तराखंड में आज हो रहा 220 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला, जानिए कितनी महिला उम्मीदवारों पहुंचेंगी विधानसभा

बहरहाल, उत्तराखंड की राजनीति में जिस तरह सत्ता में हर बार अदला-बदली का खेल चलता आया है और एक्जिट पोल और शुरुआती रुझान भी कांग्रेस के पक्ष में आते नजर आ रहे हैं, उसमें अब कांग्रेस की तरफ से मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठने को लेकर भी कयास लगाए जाने शुरु हो गए हैं। जब इस बाबत Ex-CM Harish Rawat  से पूछा गया कि सीएम की कुर्सी को संभालने के लिए वो तैयार हैं तो उन्होंने बड़ी साफगोई के साथ ​कहा कि सरकार का नेतृत्व वो ही व्यक्ति करेगा जिसका नाम कांग्रेस अध्यक्ष तय करेंग।