उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अपने शहर गोरखपुर में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने नौ विधान सभा सीटों में से आठ पर बढ़त बना ली है, जबकि कैम्पियरगंज विधानसभा सीट भाजपा प्रत्याशी एवं पूर्व मंत्री फतेह बहादुर सिंह लगभग तीन हजार वोटों से पीछे चल रहे हैं। 

ये भी पढ़ेंः ex-CM हरीश रावत परिणाम 2022 को लेकर उगल दी सच्चाई, हाईकमान के उड़े होश


जिले में महत्वपूर्ण सीट गोरखपुर शहर विधान सभा सीट के प्रत्याशी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ चौथे चक्र की मतगणना में 12 हजार वोटों से आगे चल रहे हैं, जबकि प्रतिद्वन्दी सपा की उम्मीदवार सुभावती शुक्ला को 4290 वेाट मिल हैं और योगी को 16569 मत मिले हैं। गोरखपुर ग्रामीण में भाजपा प्रत्याशी विपिन सिंह ने दो चक्र मतगणना पूरा होने के बाद सपा उम्मीदवार विजय बहादुर यादव से तीन हजार वोटों से बढत बना ली है। पिपराइच में भाजपा प्रत्याशी महेन्द्र पाल सिंह अपने निकटतम प्रतिद्वंदी सपा के अमरेन्द्र निषाद से आगे चल रहे हैं तो बांसगाव में भाजपा के विमलेश पासवान, खजना और चिल्लूपार में भाजपा के प्रत्याशियों ने बढत बना ली है। 

ये भी पढ़ेंः भले ही यूपी में बन रही हो योगी आदित्यनाथ की सरकार, लेकिन यहां अखिलेश यादव ने दिया बड़ा झटका, जानिए कैसे


उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव की 403 सीटों के लिये गुरुवार को हो रही मतगणना के शुरुआती चार घंटे के दौरान 399 सीटों के रुझानों में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने 249 और मुख्य विपक्षी दल समाजवादी (सपा) ने 111 सीटों पर बढ़त बना ली है। चुनाव आयोग के मतगणना संबंधी आंकड़ों के मुताबिक प्रदेश की 399 सीटों के शुरुआती रुझान में 249 सीट पर भाजपा और 111 सीट पर सपा के उम्मीदवार आगे हैं। बढ़त बनाने वाले प्रमुख उम्मीदवारों में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के अलावा योगी सरकार में मत्री श्रीकांत शर्मा, पूर्व राज्यपाल बेबीरानी मौर्या भी शामिल हैं। वहीं, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य कौशांबी जिले की सिराथू सीट पर सपा गठबंधन की निकटतम उम्मीदवार पल्लवी पटेल से 2144 वोट से पीछे हो गये। वहीं पूर्व वन मंत्री और सपा उम्मीदवार दारा सिंह चौहान घोसी विधानसभा सीट पर भाजपा के विजय राजभर से 2403 मतों से पीछे चल रहे हैं।