अमेरिकी डिप्लामेट्स को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। तुर्की के सरकारी मीडिया ने कहा है कि लेबनान में अमेरिकी वाणिज्य दूतावास के लिए काम कर रहे एक अमेरिकी राजनयिक को एक सीरियाई नागरिक को कथित रूप से नकली पासपोर्ट प्रदान करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। खबर है कि संदिग्ध की पहचान उसके नाम के अक्षर डीजेके द्वारा की गई है।

इस आरोपी को 11 नवंबर को इस्तांबुल हवाई अड्डे पर हिरासत में लिया गया था। इसके बाद सीरियाई नागरिक को 10,000 डॉलर में जाली पासपोर्ट बेचने के संदेह में औपचारिक रूप से गिरफ्तार कर लिया गया था। रिपोर्ट्स के मुताबिक झूठे पासपोर्ट पर जर्मनी की यात्रा करने का प्रयास करने के बाद सीरियाई को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया था, जो कि डीजेके के नाम पर था।

बाद में पुलिस ने सुरक्षा कैमरा फुटेज की जांच के जरिए निर्धारित किया कि डीजेके को एयरपोर्ट पर पासपोर्ट दिया गया। रिपोर्ट में कहा गया है कि पुलिस ने डिप्लोमैट के पास से 10,000 डॉलर का एक लिफाफा भी जब्त किया है।

खबर है कि अमेरिकी डिप्लोमैट को जेल में डाल दिया गया है जबकि सीरियाई को डाक्यूमेंट्स में हेरीफेरी के लिए संभावित कार्यवाही लंबित होने तक रिहा कर दिया गया। मामले को लेकर अंकारा में अमेरिकी दूतावास और बेरूत में अमेरिकी दूतावास ने अब तक कोई कमेंट नहीं किया है।