भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने शुक्रवार को राष्ट्रीय राजधानी और उसके आसपास के क्षेत्रों के लिए एक यलो अलर्ट जारी करते हुए इन क्षेत्रों में हल्की बारिश के साथ आसमान में बादल छाए रहने का अनुमान जताया है। इसके अलावा विभाग ने पश्चिमी और पूर्वी उत्तर प्रदेश के लिए भी रेड अलर्ट जारी किया है। विभाग ने कहा, उत्तर प्रदेश के पश्चिमी और पूर्वी भागों में गरज के साथ भारी बारिश होने के आसार हैं। आईएमडी ने अलर्ट जारी करते हुए कहा, हरियाणा और पूर्वी राजस्थान के अलग-अलग हिस्सों में गरज के साथ भारी बारिश हो सकती है।

मौसम विभाग ने उत्तर प्रदेश के 10 जिलों में बारिश को लेकर रेड अलर्ट जारी किया है। सरकार ने प्रदेश के सभी शिक्षण संस्थानों को एहतियातन बंद रखने का आदेश कल ही जारी कर दिया था। मौसम विभाग ने चेताया है कि अगले तीन दिन तक भारी बारिश हो सकती है। बारिश के साथ 80 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने का भी संभावना है। कई स्‍थानों पर आकाशीय बिजली गिरने का खतरा भी मंडरा रहा है। जिन जिलों के लिए अलर्ट जारी किया गया है उनमें बांदा, उन्‍नाव, फतेहपुर, कानपुर, कानपुर देहात, हरदोई, गौतमबुद्ध नगर और अलीगढ़ शामिल हैं। 

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के कई शहरों में बुधवार रात से हो रही मूसलाधार बारिश ने कहर ढा दिया है। गुरुवार को जगह-जगह मकान, दीवार, पेड़ और बिजली के खंभे गिर गए। रेलवे ट्रैक पर ओएचई लाइन टूट जाने से कई ट्रेनों के पहिए थम गए। विमान सेवा बाधित हुई। बिजली व्यवस्था चरमरा गई। कुल 50 लोगों की मौत हो गई है। कई घायल हैं। सबसे ज्यादा नुकसान अवध क्षेत्र में हुआ है। लखनऊ में तीन समेत यहां 21 लोगों की जान चली गई।