नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पहल पर अयोध्या में मंदिरों को लेकर बड़ा फैसला किया गया है। इसके चलते जिले के मंदिरों के अच्छे दिन आ गए हैं। दरअसल, अयोध्या के मठ-मंदिरों में टैक्स माफ कर दिया गया है। अयोध्या नगर निगम ने इसके लिए प्रस्ताव पारित कर दिया।

यह भी पढ़ें : IPFT के सबसे प्रभावशाली नेता अध्यक्ष पद के लिए आमने-सामने, जानिए पूरा मामला

खबर है कि सीएम योगी के मठ मंदिरों को टैक्स फ्री किए जाने की घोषणा पर नगर निगम ने प्रस्ताव पास किया। मठ मंदिरों को अब केवल प्रतीकात्मक टैक्स ही देना होगा। उन सभी मठ,मंदिर और आश्रमों को टैक्स फ्री किया गया है, जो व्यावसायिक उपयोग नहीं कर रहे हैं। इसके साथ ही मंदिरों पर बकाया टैक्स भी माफ कर दिया गया है। यूपी के कैबिनेट मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने ट्वीट करते हुए इसकी जानकारी दी। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा, 'अयोध्या में मठ-मंदिर कर मुक्त, बकाया टैक्स भी माफ।'

हाल ही में योगी आदित्यनाथ अयोध्या पहुंचे थे। उन्होंने वहां घोषणा की थी कि अयोध्या के मंदिरों और धर्मशालाओं को टैक्स फ्री किया जाएगा। सीएम योगी की इसी घोषणा पर नगर निगम ने प्रस्ताव लाकर मोहर लगा दी है। अयोध्या के महापौर ने बताया कि पार्षद अर्जुनदास और रमेशदास के प्रस्ताव पर एक और महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया है। मंदिरों का बकाया टैक्स भी माफ किया जाएगा।

यह भी पढ़ें : असमिया सहित 24 नई भाषाओं को Google Translate में जोड़ा गया , यहां देखिए नई जुडी भाषाओं की लिस्ट

इसके साथ ही CM योगी के निर्देशानुसार अयोध्या में उदया चौराहे का नाम लता मंगेशकर के नाम पर और टेढ़ी बाजार चौराहे का नाम निषादराज के नाम पर किए जाने के प्रस्ताव पर भी नगर निगम ने मुहर लगा दी है।