उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर से डाॅक्टरां की लापरवाही (careless doctor) एक ऐसा वाकया सामने आया है जिसको लेकर हर कोई हैरान है। क्योंकि डाॅक्टरों की गलती का भुगतान मरीज को अपनी जान देकर करना पड़ा। दरअसल, यहां नाम के कंफ्यूजन (name confusion) में डॉक्टरों ने बुखार के मरीज का ऑपरेशन कर दिया। इसके बाद उस व्यक्ति की हालत बिगड़ने लगी और मौत हो गई।

इस मौत से हुए हंगामे के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम (health department team) मौके पर पहुंची और आनन-फानन में हॉस्पिटल को सीज कर भर्ती मरीजों को अन्य अस्पताल में शिफ्ट कर दिया। उधर मृतक के परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने मुकदमा कायम कर विधिक कार्यवाही शुरू कर दी है।

मामले के अनुसार नरसेना थाना क्षेत्र के गांव किरयारी निवासी 44 साल के यूसुफ को बुखार की शिकायत पर बुलंदशहर जिला मुख्यालय स्थित सुधीर नर्सिंग होम (sudhir nursing home) में भर्ती कराया गया था। उसकी हालत ठीक थी लेकिन 20 तारीख की रात में डाॅक्टरों ने यूसुफ का ऑपरेशन कर दिया। शुरू में बताया गया कि गॉल ब्लाइडर का ऑपरेशन किया गया है, लेकिन बाद में परिजनों ने आरोप लगाया शरीर का कोई अंग निकालने के लिए ऑपरेशन किया गया है। हालांकि, इस चूके के पीछे दो मरीजों के एक ही नाम का होना है।