उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) के लिए राजनीतिक पार्टियों ने अपनी कमर कस ली है। जनता को लुभाने के लिए पार्टियां साम, दाम, दण्ड भेद की नीतियां अपना रही है। हाल ही में कांग्रेस ने चुनाव के लिए युवा घोषणा पत्र (manifesto) का ऐलान कर दिया है। जिसमें कांग्रेस ने युवाओं अपनी ओर आकर्षित करने के लिए 20 लाख नौकरिया देने की घोषणा की है।


बता दें कि उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव 10 फरवरी को पहले चरण का मतदान होना है। इसके लिए सभी राजनीतिक पार्टियों ने अपने अपने प्रत्याशियों का भी ऐलान कर दिया है। इस चुनाव में प्रियंका (Priyanka) ने चुनाव बाद गठबंधन करने की शर्त बतायी है। पार्टियों के समर्थन को लेकर प्रियंका ने कहा कि " अगर ऐसी परिस्थिती आई तो हम जिस गठबंधन में शामिल होंगे उसमें हम चाहेंगे कि हमारे जो महिलाओं और युवाओं के लिए वादे हैं वो सरकार के एजेंडा में शामिल हो "।
 कांग्रेस का 20 लाख नौकरियों का वादाप्रियंका गांधी (Priyanka) 20 लाख नौकरियों का वादे को लेकर कहा कि 20 लाख नौकरियों में से 12 लाख नौकरियां ऐसी हैं जिनके सरकारी पद खाली पड़े हैं। इसका बजट भी सरकार के पास है। 8 लाख अन्य नौकरियों को स्वरोजगार के जरिए अवसर पैदा करेंगे।
प्रियंका (Priyanka)  ने नौकरियों का इस तरह से किया बंटवारा--घोषणा पत्र में  20 लाख सरकारी भर्तियों का वादें में 8 लाख सरकारी पद महिलाओं के लिए होंगे। -प्राथमिक विद्यालयों में डेढ़ लाख, माध्यमिक में 38 हजार, उच्च शिक्षा में आठ हजार शिक्षकों के पद खाली हैं, जिनकों वादें मुताबिक भरा जाएगा।-डॉक्टरों के 6 हजार, पुलिस विभाग के 1 लाख रिक्त पदों को भरा जाएगा।-20 हजार आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं और 27 हजार आंगनवाड़ी सहायिकाओं की नियुक्ति होगी।-संस्कृत विद्यालयों में 2 हजार, फिजिकल एजुकेशन  और उर्दू शिक्षकों की भी भर्ती होगी।-भर्ती प्रक्रिया के फॉर्म भरने के लिए कोई फीस नहीं ली जाएगी। -परीक्षा देने जाने के लिए बस और ट्रेन का किराया नहीं लगेगा।-एक जॉब कैलेंडर बनेगा, जिसमें फॉर्म भरने से लेकर नियुक्ति तक की तारीख पहले से दी जाएगी।